धनबाद के मैथन में स्कूल सफाई के दौरान 12 साल के छात्र की मौत, स्कूल परिसर में हंगामा

शिक्षक की लापरवाही ने लिया बच्चों की जान जी हां मामला है निरसा के मैथन ओपी क्षेत्र के कालीमाटी स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय निरसा3  में 12 वर्षीय छात्र की मौत बुधवार को स्कूल सफाई करने के दौरान हो गई। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि कक्षा 6 के छात्र टुकटुक बाउरी स्कूल परिसर की सफाई शिक्षक के आदेश पर कर रहा था। 

शव को रखकर स्कूल में परिजनों ने किया हंगामा 

सफाई के बाद छात्र अपने कक्षा में जाकर बैठा और कुछ ही क्षण में छात्र को उल्टी होनी लगी। स्थिति खराब होता देख छात्र सूचना मिलने पर छात्र के परिजन आया और तुरंत छात्र को इलाज के लिए आनन फानन में अस्पताल ले जाया गया। लेकिन बच्चें की मौत हो गयी। बच्चे का शव लेकर परिजन स्कूल परिसर पहुंचे और जमकर हो हंगामा करने लगे।  इधर सूचना मिलने पर मैथन ओपी प्रभारी बालाजी राजहंस अपने दल बल के साथ मौके पर पहुंचे । इधर स्कूल परिसर में ग्रामीणों का हुजूम लग गया। स्कूल प्राचार्य के ऊपर मौत का आरोप लगाने लगा। लोगों का कहना है कि सफाई के दौरान ही छात्र को किसी जहरीले सांप ने काट लिया प्राचार्य के लापरवाही के कारण छात्र की मौत हो गई है।

छात्रों ने स्कूल के प्राचार्य पर लगाए गए आरोप

वही स्कूल के छात्रों ने स्कूल प्राचार्य पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। छात्रों का कहना है कि प्रतिदिन स्कूल के साफ-सफाई के लिए प्राचार्य मारपीट करते हैं बड़े-बड़े जंगलों की कटाई हाथों से करने के लिए कहा जाता है।  समस्या एक दिन की नहीं है। प्रतिदिन की होती है। वही मृत छात्र के परिजनों ने कहां की प्राचार्य में मानवता जरा भी नहीं है, जब बच्चे की स्थिति खराब हुई तो उसे तुरंत अस्पताल ले जाने के बजाय अनदेखा किया है। प्रचार अगर तत्परता दिखाते हैं या बच्चों से इस प्रकार की सफाई का कार्य नहीं करवाते तो आज यह घटना नहीं होती। इधर छात्र के मौत के बाद छात्र के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।  उनका कहना है कि मेरे बेटे को ला दो और हम कुछ नहीं चाहते। फिलहाल पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.