चतरा की एसिड पीड़िता को आज 11 बजे एयरलिफ्ट कराकर एम्स दिल्ली ले जाया जाएगा

Acid attack Chatra : झारखंड अंतर्गत चतरा की एसिड अटैक पीड़़िता को रिम्स मेडिकल बोर्ड ने हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया है। पीड़िता को उपायुक्त व सिविल सर्जन की निगरानी में बुधवार की सुबह 11 बजे एयरपोर्ट से एयर लिफ्ट कराया जाएगा। मेडिकल बोर्ड ने पीड़िता को एम्स ले जाने की सलाह दी है ताकि उसका बेहतर इलाज हो सके। मेडिकल बोर्ड में सर्जन डा मृत्युंजय सरावगी, प्लास्टिक सर्जन डा विक्रांत और नेत्र विभाग से डा राजीव शामिल हैं। रिम्स अधीक्षक हिरेंद्र बिरुआ ने बताया कि छात्रा की बांयी आंख एसिड की वजह से बुरी तरह जल चुकी है। पुलती जल जाने के कारण आई ड्राई हो गई और कोर्निया डैमेज हो गया है। हो सकता है हायर सेंटर में आंख का बेहतर इलाज संभव हो सके। इधर, नेत्र चिकित्सक डा राजीव गुप्ता ने बताया कि जो स्थिति है उसमें दोबारा रोशनी आने में काफी दिक्कतें आ सकती है। हालांकि बाहर इसी वजह से भेजा जा रहा है ताकि पीड़िता को यहां से बेहतर इलाज की सुविधा मिल सके और जल्द ठीक हो सके। उन्होंने बताया कि छात्रा को एम्स भेजने की तैयारी कर ली गई है। इसकी सूचना सरकार को दी गई है, उपायुक्त और सिविल सर्जन इसकी मानिटरिंग कर रहे हैं। उसके बाद जैसे ही निर्देश आता है सुबह में मरीज को एयर लिफ्ट करवाया जाएगा।

बन्ना गुप्ता ने मांगी 12 घंटे में हेल्थ रिपोर्ट

एसिड पीड़िता को देखने स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता मंगलवार की सुबह रिम्स पहुंचे और डाक्टर को निर्देश दिया है कि हर 12 घंटे में उससे उनके स्वास्थ्य की अपडेट जानकारी दें। इस बीच उन्होंने कहा कि पीड़िता को हायर सेंटर भेजने के लिए मेडिकल बोर्ड गठित कर दी गई है, जो आगे का निर्णय लेगा। हालांकि उन्होंने सुबह ही स्पष्ट कर दिया था कि अगर जरूरत पड़ी तो एयर लिफ्ट करा कर उसे हायर सेंटर भेजा जा सकता है। बन्ना गुप्ता ने कहा कि जिसने भी इस तरह की घटना को अंजाम दिया है भगवान उसे कभी माफ नहीं करेगा और सरकार उसे फांसी तक पहुंचाने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि वह अपराधी जिस कोख से जन्म लिया है उसको भी उसने शर्मसार कर दिया है। ऐसे अपराधी को समाज में रहने का कोई हक नहीं है। पीड़िता को जहां जरूरत होगा वहां उनकी पूरी मदद सरकार की ओर से की जाएगी।

पीड़िता की हालत अभी भी गंभीर

गौरतलब है कि सिरफिरे युवक ने बात करने से मना करने पर लड़की (17) और उसकी मां पर एसिड फेंक दिया था। 50 फीसदी तक जली लड़की की हालत गंभीर बनी हुई है। रांची के रिम्स में उसका इलाज चल रहा है। मां का कहना है कि समय रहते अगर मेरी बच्ची को बेहतर इलाज मिल जाए तो उसकी जान बच सकती है। हंटरगंज के धेबू गांव में 4 अगस्त को संदीप भारती ने लड़की और उसकी मां पर तेजाब फेंका था। उस वक्त वो घर में सो रही थी। आरोपी घर में घुसा और सीधे एसिड की बोतल निकालकर दोनों के ऊपर फेंक दिया था।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.