मंदिर में शादी करने के बाद युगल प्रेमी पहुंचे रजिस्ट्री ऑफिस, तभी हो गयी युवती के परिजनों की इंट्री और शुरू हो गया हंगामा

प्रेमी-प्रेमिका मंदिर में शादी करने के बाद बुधवार को रजिस्ट्री कार्यालय पहुंचे थे। प्रेमिका के साथ सभी गवाह भी मौजूद थे. कागजी प्रक्रिया शुरू होने के दौरान ही युवती के परिजन पहुंचे और युवती को घर ले जाने की कोशिश करने लगे। हालांकि, युवती घर जाने को तैयार नहीं थी। इसके बाद उसके परिजनों ने रजिस्ट्री कार्यालय में जमकर हंगामा किया और युवती को हाथ पकड़कर जबरन घर ले जाने लगे। लेकिन युवती अपने प्रेमी के साथ रहने की जिद पर अड़ी रही।

झरिया का चौथाई कुल्ही निवासी है प्रेमी

झरिया थाना क्षेत्र के चौथाई कुल्ही के रहने वाले प्रेमी गोपाल ने बताया कि पिछले 8 साल से युवती से साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। 9 जून को दुर्गापुर अंबा मंदिर में हिंदू रीति रिवाज से शादी की। इसके बाद बुधवार को कागजी प्रक्रिया पूरी करने को लेकर रजिस्ट्री ऑफिस पहुंचे। इसी दौरान अचानक प्रेमिका के परिजन पहुंचे और प्रेमिका को सड़क पर घसीटते हुए महिला थाना ले गये। उन्होंने कहा कि हम दोनों आपसी सहमति से शादी की है। इसके बावजूद प्रेमिका के परिवार वालों ने झरिया थाना में अपहरण और आर्म्स एक्ट का झूठा मुकदमा दर्ज करावाया है।

महिला थाने में ही हैं प्रेमी- प्रेमिका

युवती ममता ने बताया कि हमलोग दुर्गापुर स्थित एक मंदिर में शादी कर चुके है और आज कानूनी रूप से शादी करने रजिस्ट्री ऑफिस पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि परिवार के लोगों ने मेरे साथ मारपीट की है और घसीटते हुए महिला थाना लाया है। जहां प्रेमी जोड़े ने कहा कि वे लोग बालिग हैं और उन्होंने अपनी मर्जी से शादी की है। फिलहाल लड़की और उसके परिजन महिला थाने में ही हैं और पुलिस दोनों पक्षों को समझाने की कोशिश कर रही है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.