रांची में हिंसा भड़काने को किस ट्रेन से आए थे 14 लोग इसकी मिल चुकी है खुफिया विभाग को जानकारी, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यपाल से मांगी रिपोर्ट

भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के कथित बयान को लेकर झारखंड की राजधानी रांची में पिछले दिनों हुई हिंसा को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यपाल रमेश बस से रिपोर्ट तलब की है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने रांची में हुई हिंसा में शामिल लोगों को चिन्हित करने को भी कहा गया है। खुफिया जानकारी के अनुसार इस घटना में उत्तरप्रदेश से 14 लोग विशेष रूप से रांची आये थे। इन लोगों ने ही पथराव और हिंसक घटना को अंजाम देने के लिए युवाओं को भड़काने का काम किया। इसके लिए फंडिंग भी गयी थी। रांची में हिंसा भड़काने के लिए उत्तर प्रदेश से रांची पहुंचे लोग किस ट्रेन से रांची पहुंचे थे, इसकी पूरी जानकारी खुफिया विभाग को मिल गई है। ट्रेन टिकट सहित ये कहां ठहरे हुए थे इसका भी पूरा ब्योरा खुफिया विभाग के पास है। अब जल्द ही इन्हें चिन्हित करने की कार्रवाई की जाएगी। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सारी स्थिति पर राजभवन से रिपोर्ट तलब की है। हिंसा को लेकर राज्यपाल ने भी झारखंड के डीजीपी नीरज सिन्हा से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। पूरी जानकारी मिलने के बाद राजभवन गृह मंत्रालय को अपनी रिपोर्ट भेजेगा, जिसे राष्ट्रपति के समक्ष भी रखा जायेगा।

हिंसा में 2 लोगों की मौत हुई थी और 13 घायल हुए थे

गौरतलब है कि भाजपा की निलंबित नेता नूपुर शर्मा और निष्कासित नेता नवीन जिंदल के बयान से आक्रोशित मुस्लिम समाज के लोगों ने शुक्रवार को हिंसक प्रदर्शन किया। इस दौरान उपद्रवियों ने पथराव किया। स्थिति को संभालने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। इस दौरान उपद्रवियों ने भी गोलीबारी की। इस गोलीबारी में दो लोगों की मौत हुई है और 13 लोग घायल हुए हैं। इस मामले में अबतक कुल 25 एफआईआर दर्ज हुए हैं। इसमें 22 लोग नामजद हैं और 100 अज्ञात लोगों पर एफआईआर किया है। फिलहाल शहर में 3500 से अधिक एटीएस, आईआरबी, एसटीएफ और रेपिड एक्शन फोर्स जवानों की तैनाती है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.