मवेशी तस्करी मामला : टीएमसी नेता अनुब्रत के करीबी कारोबारी से सीबीआई ने की पूछताछ

Kolkata West Bengal news : मवेशी तस्करी मामले (cattle smuggling) में तृणमूल कांग्रेस (TMC) के नेता अनुब्रत के करीबी कारोबारी अब्दुल करीम खान से गुरुवार को सीबीआई की टीम ने घंटों पूछताछ (inquiry) की। बताया जा रहा है कि करोड़ों की संपत्ति की जानकारी जुटाने के लिए सीबीआई (CBI) ने ऐसा किया है। कारोबारी अब्दुल करीम खान को निजाम पैलेस स्थित सीबीआई कार्यालय (CBI office)  में तलब किया गया था। इससे पहले भी शांति निकेतन स्थित सीबीआई के अस्थायी कार्यालय में कारोबारी (businessman) से पूछताछ की गयी थी। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कारोबारी अब्दुल करीम खान (Abdul Karim Khan) ने सीबीआई के समक्ष कई रहस्य खोले हैं। अब सीबीआई टीम अपने स्तर से मामलों की क्रास चेकिंग करेगी।

महंगे उपहारों को लेकर भी सीबीआई ने दागे सवाल

मिली जानकारी के अनुसार सीबीआई ने पूछताछ के दौरान समारोह में लोगों से मिले मांगे उपहारों के बारे में भी जानकारी हासिल की। सीबीआई ने इस दौरान यह सवाल किया कि आखिर लोग इतने महंगे उपहार आपको क्यों देते थे। आपसे उन्हें क्या फायदा था। आरोप है कि तृणमूल (TMC) के स्थापना दिवस पर नानूर में आयोजित मेले में अनुब्रत के प्रिय शिष्य करीम और अनुव्रत को महंगे उपहारों से भर देते थे। कभी सिर पर चांदी का मुकुट तो कभी चांदी की तलवार अनुव्रत (anubrat mandal) को दी जाती थी। चांदी के तराजू में उन्हें तौला जाता था। सीबीआई पहले ही करीम की बड़ी संपत्ति का पता लगा चुकी है। नानूर, बोलपुर और शांतिनिकेतन में उनके कई आलीशान घर हैं। उनका प्रसाद फार्म हाउस शांतिनिकेतन में उदयनपल्ली और शिमंडपल्ली के बीच बन रहा है। घर के निर्माण में लगभग चार करोड़ रुपए खर्च हुए।

बोलपुर के बैंक अधिकारियों को भी किया है तलब

मिली जानकारी के अनुसार बोलपुर (Bolpur)  के तीन बैंकों के अधिकारियों को भी सीबीआई ने पूछताछ के लिए अस्थाई कैंप में तलब किया गया है। सीबीआई (CBI) सूत्रों के अनुसार अवैध लेनदेन की जानकारी के लिए उनसे पूछताछ की जाएगी। इससे पहले ईडी-सीबीआई ने जिला परिषद के उप निदेशक अब्दुल करीम खान (Abdul Karim Khan) के नानूर (nanoor) स्थित घर पर संयुक्त तलाशी ली गयी थी। 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *