106 घंटे से 60 फीट गहरे बोरवेल में फंसे बच्चे को रेस्क्यू टीम ने निकाला सुरक्षित, SDRF, NDRF और सेना का…

Successful rescue operation in Chhattisgarh. छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में बोरवेल में फंसे राहुल को 106 घंटे चले रेस्क्यू ऑपरेशन बाद 14 जून की देर रात सुरक्षित निकाल लिया गया। रेस्क्यू के फौरन बाद उसे बिलासपुर के अपोलो हॉस्पिटल भेजा गया। राहुल 10 जून को दोपहर करीब 2 बजे 60 फीट गहरे बोरवेल में गिर गया था। प्रशासन, SDRF, NDRF और सेना ने इस ऑपरेशन को बिना रुके और बिना थके अंजाम दिया। इस दौरान उन्हें काफी परेशानियों को भी सामना करना पड़ा। यह देश का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन बताया जा रहा है।

‘भारत माता की जय’ के नारे

जैसे ही राहुल को बाहर निकाला गया जवानों ने भारत माता की जय के नारे लगाए। लोगों ने रेस्क्यू टीम के लिए तालियां बजाईं और पटाखे चलाए। लोगों ने SDRF, NDRF और सेना के जवानों को गोद में उठा लिया।

सीएम भूपेश बघेल ने सोशल मीडिया पर दी जानकारी

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रेस्क्यू ऑपरेशन पर नजर बनाए हुए थे। वो राहुल के परिजनों के संपर्क में थे। मंगलवार रात उन्होंने सोशल मीडिया पर रेस्क्यू ऑपरेशन कामयाब होने की जानकारी दी। CM ने बताया कि ऑपरेशन के दौरान गड्‌ढे में एक सांप भी आ गया था, मगर खतरा टल गया। काफी लोग घटनास्थल के पास मौजूद थे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.