Dussehra 2022 : हम आज मना रहे हैं विजयादशमी, जानिए पूजा का शुभ मुहूर्त और महत्व, अन्याय से बचें, नफरत का…

Vijayadashami 2022, Ravan Dahan Muhurat in india calendar दशहरा या विजयादशमी का त्योहार आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है। इस साल दशहरा 5 अक्टूबर 2022 यानी बुधवार को है। दशहरे के दिन सुकर्मा, धृति, रवि, हंस व शश समेत कई शुभ योग बनने से इस दिन का महत्व बढ़ रहा है। ज्योतिषाचार्यों  की मानें तो, दशहरा का पूरा दिन ही शुभ माना जाता है। दशहरे के दिन साढ़े तीन अबूझ मुहूर्त में से एक माना जाता है, इसलिए पूरा दिन ही शुभ माना जाता है। फिर भी पूजन विधि के लिए एक शुभ मुहूर्त होता है। इस दिन आप किसी भी नए काम की शुरुआत कर सकते हैं। ध्यान रहे, आज किसी भी प्रकार से अन्याय और नफरत से बचने की प्रेरणा लेने का दिन है।

10 प्रकार के पापों के परित्याग की प्रेरणा

 दशहरा दस प्रकार के पापों के परित्याग की प्रेरणा देता है। ज्योतिषविद पंडित ललित शर्मा के अनुसार कल विजयदशमी पूजन का शुभ मुहूर्त प्रात: 7.44 से प्रात: 9.13 तक और इसके बाद प्रात: 10.41 से दोपहर 2.09 बजे तक रहेगा।

दशहरे के दिन श्रवण नक्षत्र का महत्व

उदयातिथि के अनुसार, दशहरा 05 अक्टूबर को है। हालांकि इस दिन दशमी तिथि दोपहर 12 बजे तक ही रहेगी। इसके बाद एकादशी तिथि शुरू हो जाएगी। शास्त्रों के अनुसार, दशमी तिथि दोपहर में हो या न हो, लेकिन जिस दिन श्रवण नक्षत्र विद्यमान हो, उस दिन विजयादशमी मान्य होती है।

दशमी तिथि कब से कब तक-

दशमी तिथि 04 अक्टूबर 2022 को दोपहर 02 बजकर 20 मिनट से शुरू होगी, जो कि 05 अक्टूबर 2022 को दोपहर 12 बजे तक रहेगी।

श्रवण नक्षत्र कब से कब तक

04 अक्टूबर 2022 को रात 10 बजकर 51 मिनट से शुरू होगी, 05 अक्टूबर 2022, रात 09 बजकर 15 मिनट तक रहेगी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.