धनबाद के एहसान अहमद खान बने भारतीय राष्ट्रीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव

एमबीए की नौकरी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए धनबाद के एहसान अहमद खान को भारतीय राष्ट्रीय युवा कांग्रेस का राष्ट्रीय सचिव बनाया गया है। घोषित की गई कांग्रेस की राष्ट्रीय युवा टीम में झारखंड से दो लोगों को सचिव पद की जिम्मेदारी दी गई है। इसमें एहसान अहमद खान के अलावा कांग्रेस के पूर्व झारखंड अध्यक्ष सुखदेव भगत के पुत्र अभिनव सिद्धांत भी शामिल हैं। 

2012 से शुरू हुआ था एहसान का सफर

आपको बता दें कि अपने क्षेत्र धनबाद में एहसान अहमद खान की खासी लोकप्रियता है। वह 2012 में एमबीए की नौकरी छोड़कर युवा कांग्रेस से सक्रिय रूप से जुड़ गए। कांग्रेस से जुड़ने के बाद अब तक इन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। अपनी लगन, मेहनत और ईमानदारी के बल पर पार्टी की सेवा करते रहे और लगातार सफलता के कदमों को चुमते रहे। 2012 में ही उन्होंने झरिया विधानसभा युवा कांग्रेस का चुनाव लड़ा और उपाध्यक्ष पद पर निर्वाचित हुए। 2017 में धनबाद जिला युवा महासचिव पद के लिए चुनाव लड़े और निर्वाचित हुए। 2018 में उन्होंने प्रदेश युवा कांग्रेस का चुनाव लड़ा और प्रदेश उपाध्यक्ष बने। इनके काम से प्रभावित होकर पार्टी ने इन्हें 2019 में राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर की बड़ी जिम्मेदारी सौंप दी। इस जिम्मेदारी को भी एहसान ने सफलतापूर्वक निभाया। इसके बाद पार्टी में उन्हें 2022 में युवा कांग्रेस का राष्ट्रीय सचिव बना दिया।

साधारण कार्यकर्ता भी छू सकता है आसमान

राष्ट्रीय सचिव बनाए जाने के बाद एहसान खान ने बताया कि कांग्रेस पार्टी में एक अदना सा कार्यकर्ता भी अगर लगन, मेहनत और ईमानदारी से काम करता है तो वह संगठन में सिर्फ पर पहुंच सकता है। क्योंकि खुद ब खुद मैं इसका उदाहरण हूं। न मैं पैसा वाला हूं और न ही मेरा बहुत बड़ा राजनीतिक विरासत ही है। इसके बावजूद भी मुझे पार्टी में इतनी बड़ी जिम्मेदारी दी है। उन्होंने कहा की कांग्रेस का साधारण सा कार्यकर्ता भी पार्टी संगठन में आसमान को छू सकता है। बशर्ते वह पार्टी लाइन पर इमानदारी से काम करें।

राहुल गांधी और बीवी श्रीनिवास को बताया आदर्श

खान ने कहा कि वह राहुल गांधी जी से प्रभावित होकर कांग्रेस में आए थे। पार्टी में आने के बाद यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीवी श्रीनिवास और राष्ट्रीय प्रभारी कृष्णा अल्वरू से मिलने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। इतने बड़े पद पर होने के बाद भी इनका शालीन और याराना व्यवहार इतना बेहतरीन है कि कार्यकर्ता उनसे मिलने के बाद डबल पावर लगाकर क्षेत्र में काम करते हैं। राष्ट्रीय सचिव बनाए जाने के बाद एहसान खान में अपने तमाम शुभचिंतकों का आभार प्रकट किया। 

पार्टी को मजबूत करना ही मुख्य लक्ष्य

एहसान अहमद खान से जब पूछा गया कि आपको पार्टी ने इतने बड़े पद पर बैठाया है। पार्टी के लिए आप क्या करेंगे। इस पर उन्होंने कहा कि मैं पहले भी दिन -रात पार्टी की सेवा में लगा रहता था, आज भी लगा हूं और आगे भी लगा रहूंगा। 2024 में कांग्रेस पार्टी को सत्ता में लाना मेरा मुख्य लक्ष्य है। इसके लिए मुझे जो भी मेहनत करना पड़ेगा करूंगा।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.