कनाडा में बैठे गैंगस्टर ने ली सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी, जानें कौन है गोल्डी बराड़?

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के पीछे आखिर कौन है। इस संबंध में मानसा के SSP गौरव तूरा ने बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि कनाडा बेस्ड गैंगस्टर गोल्डी बरार ने हत्या की जिम्मेदारी ली है। हत्या के पीछे आने वाला नाम गोल्डी बराड़ कौन है ये सवाल हर किसी के दिमाग में गूंज रहा है। वो कैसे कनाडा में बैठे-बैठे भारत के गैंग्सटर्स को ऑपरेट करता है। जब उसने इतने जुर्म किए तो अभी तक वो कानून की गिरफ्त के बाहर कैसे है। इतना ही नहीं अपराधी अपराध करके उसे छिपाते हैं। लेकिन गोल्डी बराड़ का दावा तो देखिए कनाडा में बैठकर कांग्रेस नेता और पंजाबी सिंगर की हत्या की जिम्मेदारी ली। गोल्डी बराड़ का कनाडा से बैठे क्राइम करना और फिर उसकी जिम्मेदारी लेना ये दिखाता है कि वो कितना रसूखदार होगा।

गोल्डी गैंग लीडर लॉरेंस बिश्नोई का सहयोगी

कनाडा के गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने रविवार शाम एक फेसबुक पोस्ट में पंजाबी सिंगर और कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है। गोल्डी गैंग लीडर लॉरेंस बिश्नोई का करीबी सहयोगी है। उसके बारे में कहा जाता है कि वह पंजाबी गायक की हत्या में शामिल था। गौरतलब है कि पंजाब के मनसा गांव में रविवार शाम अज्ञात हमलावरों ने सिद्धू मूसेवाला की गोली मारकर हत्या कर दी थी, जिसकी जिम्मेदारी अब कनाडा में बैठे गैंग्स्टर गोल्डी बराड़ ने ले ली है। आइए आपको बताते हैं कि कौन है गोल्डी बराड़।

जानिए कौन हैं गोल्डी बराड़?

कनाडा निवासी गैंगस्टर गोल्डी बराड़ उर्फ सतिंदर सिंह की भारतीय अधिकारियों को कई आपराधिक मामलों में तलाश है। फरीदपुर की एक अदालत ने इस महीने की शुरुआत में जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष गुरलाल सिंह पहलवान की हत्या के सिलसिले में गोल्डी बराड़ पर गैर जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। गोल्डी बराड़ जुर्म की दुनिया का वो नाम है जो अब देश छोड़कर कनाडा में शिफ्ट हो चुका है। गोल्डी कनाडा में बैठे-बैठे ही दिल्ली-एनसीआर सहित कई राज्यों में अपना जुर्म का नेटवर्क चला रहा है। यह पहला मौका नहीं है जब वो जुर्म करने के बाद भी कानून की पहुंच से दूर रहा हो। इसके पहले गोल्डी बराड़ के ऊपर दर्जनों आपराधिक मुकदमें दर्ज हैं, लेकिन वो बिना किसी डर के जुर्म पर जुर्म किए जा रहा है।

गोल्डी बराड़ के सहयोगी गगन को पंजाब पुलिस की एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स ने किया था गिरफ्तार

पंजाब पुलिस की एंटी गैंगस्टर फोर्स ने इसी साल अप्रैल के महीने में गोल्डी बराड़ के खास आदमी गगन बराड़ को गिरफ्तार किया था। पंजाब पुलिस की एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स ने बठिंडा से लॉरेंस बिश्नोई और बरार के 3 करीबी सहयोगियों को गिरफ्तार किया था। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार किए गए लोगों में से दो राज्य में मादक पदार्थों की तस्करी और अवैध हथियारों की तस्करी में शामिल थे। पुलिस ने गगन बरार को भी गिरफ्तार किया था, जिसे इस साल की शुरुआत में अप्रैल में गोल्डी बरार का प्रमुख सहयोगी बताया जाता है। पंजाब में स्थानीय मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, इन अपराधियों ने बराड़ के आदेश पर एनसीआर क्षेत्र के फरार गैंगस्टरों को ठिकाने उपलब्ध कराए थे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.