बाघमारा प्रखंड प्रमुख बनी गीता देवी, ढुल्लू के चक्रव्यूह को भेद पाने में विरोधी फिर रहे नाकाम

धनबाद के बाघमारा प्रमुख पद पर मंगलवार को गीता देवी निर्वाचित हुईं। 67 पंचायत समिति सदस्यों ने वोटिंग में भाग लिया। गीता देवी को 60 वोट मिले, जबकि राधा देवी को पांच मिले। साथ ही दो वोट रद्द कर दिया गया। 

उल्लेखनीय है कि प्रमुख चुनाव को लेकर पंचायत समिति सदस्यों को दीघा ले जाकर समुद्र का खूबसूरत नजारा दिखाकर मनमुग्ध कर दिया गया था। उन लोगों ने आशिनबारी गेस्ट हाउस में तरह तरह के भोजन का लुफ्त उठाया। जानकारी के अनुसार यह सभी सोमवार की शाम तक एसी बस से धनबाद के पास रात्रि विश्राम के बाद मंगलवार को सीधे प्रखंड कार्यालय आकर वोटिंग प्रक्रिया में भाग लिया। 

जीत के नायक बने विधायक ढुल्लू महतो

बता दें कि विधायक ढुल्लू समर्थक 45 पंचायत समिति सदस्यों की टोली शनिवार की देर शाम दो बुंदेला एसी बस से टूर पर आपसी सहमति के बाद दीघा घूमने गयी थी। 15 सदस्य इस टूर पर बाल बच्चे के साथ टूर पर गए थे। जबकि कई सदस्य अकेले ही समुद्र की सैर पर थे। इन सभी का खर्चा 21 जून को प्रमुख एवं उपप्रमुख की कुर्सी पाने वाले सदस्यों द्वारा उठाने की बात कही जा रही है। जानकर बताते हैं कि मोल भाव व लगातार दो बैठकों के बाद यह प्रोग्राम बनाया गया। इस पूरे कार्यक्रम के पीछे प्रमुख चुनाव में नेपथ्य से हर बार की तरह इनका सर्वमान्य नेता का मार्गदर्शन प्राप्त था। गीता देवी को प्रमुख की कुर्सी पर बैठाने एवं एकजुटता के लिए यह सब इंतजाम किया गया था। बड़े जीत के नायक बने बाघमारा विधायक दुल्लू  और उनके बड़े भाई शरद महतो। 

(एनएफ)

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.