प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश- विदेश से मिले उपहारों की होगी नीलामी, 17 से शुरू होनेवाली नीलामी प्रक्रिया में आप भी ले सकते हैं हिस्सा, जानें कैसे ?

NATIONAL NEWS NEW DELHI : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देश-विदेश से मिले उपहारों और स्मृति चिह्नों की नीलामी इस साल उनके जन्मदिन 17 सितंबर से शुरू होगी। 17 सितंबर को विश्वकर्मा पूजा भी है। नीलामी प्रक्रिया 2 अक्टूबर तक चलेगी। इसमें आप भी हिस्सा ले सकते हैं। अगर आप दिल्ली से दूर हैं तो आप नीलामी प्रक्रिया में ऑनलाइन शामिल हो सकते हैं और यदि आप दिल्ली में हैं और फुर्सत में हैं तो आप ऑफलाइन भी इस नीलामी में शिरकत कर सकते हैं। सबसे मजेदार बात यह है कि नीलामी में उपहारों की शुरुआती कीमत 100 रुपए है। इसलिए छोटा से छोटा व्यक्ति भी इसमें भाग ले सकता है और प्रधानमंत्री को मिले उपहार निशानी के तौर पर अपने घर में जा सकता है। इस प्रक्रिया में सर्वाधिक उपहार की कीमत 10 लाख रुपए है। 

उपहारों की शुरुआती कीमत 100 रुपए 

इस नीलामी में जिन उपहारों की सबसे ज्यादा कीमत निर्धारित की गई है, उसमें पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता मनीष नरवाल की हस्ताक्षरयुक्त टी-शर्ट भी शामिल है। इसका प्रारंभिक मूल्य 10 लाख निर्धारित है। इसके अलावा कामनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों की टी-शर्ट, बाक्सिंग गल्ब्स, गोल्ड मेडलिस्ट भावना पटेल का टेबल टेनिस रैकेट है। इन वस्तुओं की शुरुआती कीमत पांच-पांच लाख रुपये तय की गई है। संस्कृति मंत्रालय की देखरेख में नीलामी के लिए इन सभी उपहारों को नई दिल्ली स्थित राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय में प्रदर्शित किया जाएगा। 

नमामि मिशन गंगे में दान होगी नीलामी से प्राप्त राशि

बताते चलें कि यह नीलामी आनलाइन और आफलाइन दोनों ही तरह से होगी। साथ ही नीलामी के लिए रखे गए उपहारों को खरीदने से पहले कोई भी संग्रहालय में जाकर देख सकेगा। विद्यार्थियों के देखने के लिए भी यह प्रदर्शनी खुली रहेगी। नीलामी में खिलाड़ियों से मिले इन उपहारों के अतिरिक्त जो अन्य प्रमुख और आकर्षक उपहार शामिल किए गए हैं उनमें उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से प्रधानमंत्री को भेंट की गई गणेश प्रतिमा, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की ओर से भेंट किया गया रुद्राक्ष धारण किए विशाल त्रिशूल भी शामिल है। इसके साथ नीलामी में पीएम को उपहार में मिली चीजों में मूर्तियां, पेंटिंग, माडल, टोपी और वस्त्र आदि भी शामिल हैं। बता दें कि पीएम इन उपहारों की नीलामी से मिलने वाली राशि नमामि गंगे मिशन में दान करते हैं। पीएम को मिलने वाले उपहारों की नीलामी का यह सिलसिला 2019 से शुरू हुआ था।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.