सोनाली फोगाट की हत्या मामले में कहां तक पहुंची सीबीआई, सांगवान व सुखविंदर पर है हत्या का आरोप 

Sonali Fogat Murder case : चर्चित टिक टाक स्टार और रियलिटी टीवी शो ‘बिग बास’ की कांटेस्टेंट रही सोनाली फोगाट की हत्या के मामले में सीबीआई ने चार्ज शीट दाखिल कर दिया है। सोनली हरियाणा भाजपा की नेता रही है।  गोवा के मापुसा की स्पेशल कोर्ट  में सोनली के दो सहयोगी सुधीर सांगवान और सुखविंदर सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) और अन्य प्रविधानों के तहत मामला चल रहा है। जिसके तहत आरोप पत्र दायर किया। सीबीआइ के अधिकारियों  ने कहा है कि  मामले में जांच को खुला रखा गया है। 

गोवा में ड्रग का ओवरडोज देकर मारने का आरोप 

ज्ञात हो कि हरियाणा के हिसार की सोनाली फोगाट को 22 अगस्त की रात गोवा के एक अस्पताल में लाया गया था, जहां उसे घोषित कर दिया। इससे पहले वह गोवा के ही अंजुना बीच पर स्थित कर्लीज रेस्तरां में एक पार्टी में शामिल होने गई थीं। वह अपने दो सहयोगियो  सुधीर सांगवान और सुखविंदर सिंह के साथ गोवा गई थीं। इसमें उनकी सन्लिपतता को देखते हुए गोवा पुलिस ने दोनों आरोपितों समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया था। इनमें दोनों सहयोगियों के अलावा ड्रग स्मंगलर  दत्ताप्रसाद गांवकर और रमा मंडरेकर और  रेस्तरां के मालिक एडविन न्यून्स शामिल थे।आरोप है कि  ड्रग पैडलर गांवकर गांवकर ने ही सिंह और सांगवान को मादक पदार्थ मुहैया कराया थे। मंडरेकर से गांवकर ने ड्रग्स खरीदे थे। आइएएनएस के अनुसार पार्टी के दौरान ही सुधीर और सुखविंदर ने कथित रूप से सोनाली को मेथाफेटामाइन भी दी थी। 

सीएम के आग्रह पर पर सीबीआई की जांच हुई थी शुरू  

उनके सहयोगियों की संदिग्ध भूमिका को देखते हुए उनके परिजनों ने सीबीआई जांच की मांग की थी। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने भी गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर मामले की  सीबीआइ जांच कराने का आग्रह किया था, जिसके बाद मंत्रालय ने मामले को सीबीआइ को भेजा। इसके बाद  सीबीआई ने मामले की जांच की जिम्मेदावारी  सितंबर में  संभाली थी। इसे अपने  हाथ में लेकर गोवा पुलिस की प्राथमिकी को पुन: दर्ज किया। सीबीआइ का दल इस मामले की पूरी पड़ताल की जिसमें सीएफएसएल विशेषज्ञों का भी सहयोग था। 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.