पश्चिम बंगाल के पानीहाटी में दही-चूड़ा मेले में उमड़ी भारी भीड़ के बीच गर्मी से तीन लोगों की मौत

पश्चिम बंगाल अंतर्गत उत्तर 24 परगना जी ले के पानीहाटी दही-चूड़ा मेले में बड़ा हादसा हुआ है। मेरे में रविवार सुबह भारी भीड़ और भीषण गर्मी के कारण दो महिलाओं समेत तीन लोगों की मौत हो गई। दो और लोग गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं। हालांकि हादसे के बाद मंदिर का मुख्य द्वार बंद कर दिया गया। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस घटना पर दुख जताया है।

सीएम ममता बनर्जी ने ट्वीट कर दी घटना की जानकारी

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने ट्वीट किया कि पानीहाटी में इस्कॉन मंदिर के चूड़ा-दही महोत्सव में भीषण गर्मी और उमस के चलते तीन लोगों की मौत हो गई है। यह अत्यंत दुखद घटना है। पुलिस कमिश्नर वह जिलाधिकारी मौके पर पहुंचे हैं। वे हर तरह से मदद कर रहे हैं। मृतक परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त कर रही हूं।

कोरोना महामारी के कारण 2 वर्षों से बंद था यह उत्सव

बताते चलें कि कोरोना महामारी को लेकर पिछले दो सालो और से यह उत्सव बंद था। स्वाभाविक रूप से, इस वर्ष के आयोजन को लेकर काफी उत्साह था। मेले में सुबह से ही बड़ी संख्या लोग यहां आए थे। दिन चढ़ने के साथ ही गर्मी भी बढ़ती गई। मृतकों के नाम का अभी पता नहीं चल पाया है। दो और लोगों को गंभीर हालत में खरदा के बलराम अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। पुलिस मेला परिसर को शीघ्र खाली कराने का प्रयास में जुटी है। इस घटना के बाद विधायक निर्मल घोष भी मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.