Inter-state Bus terminal : रांची, जमशेदपुर और धनबाद में बनेगा अंतरराज्यीय बस टर्मिनल, योजना पर काम शुरू

Ranchi, Jharkhand News: झारखंड के तीन शहरों रांची, जमशेदपुर और धनबाद (Ranchi, Jamshedpur,  Dhanbad) में जल्द अंतरराज्यीय बस टर्मिनल (आइएसबीटी) बनाने की योजना तैयार हो चुकी है। इसके लिए डीपीआर बनाई जा चुकी है। तीनों टर्मिनल को मूर्त रूप देने के लिए कर्नाटक की कंसलटेंट कंपनी आइडेक ने 150 करोड़ रुपये की योजना बनाई है। धनबाद व जमशेदपुर में आइएसबीटी के डीडीपीआर को राज्य सरकार ने अनुमोदित कर दिया है। वहीं दूसरी ओर रांची में नगर विकास विभाग की फिजिबिलिटी कमेटी ने इस योजना पर अंतिम मुहर लगा दिया है। बता दें कि आइएसबीटी का निर्माण पब्लिक प्राइवेट पाटर्नरशिप (PPP) मोड पर किया जायेगा

राजधानी रांची के दुबलिया में बनेगा बस टर्मिनल

राजधानी रांची में रिंग रोड के पास दुबलिया में आइएसबीटी बनाने का प्रस्ताव है। इसके लिए दुबलिया में 38 एकड़ जमीन चिन्हित की जा चुकी है। एक अनुमान के मुताबिक रांची अंतरराज्यीय बस टर्मिनल से 500 से अधिक बसों का रोजाना संचालन होगा। रांची रिंग रोड से आइएसबीटी को जोड़ने के लिए एप्रोच रोड तैयार करने की योजना पर भी काम शुरू हो चुका है। रांची में बनने वाले नए बस टर्मिनल में एक साथ 170 बसें खड़ी की जा सकेंगी। यहां 350 यात्रियों के लिए वेटिंग प्लेटफार्म भी बनाया जाएगा। इस टर्मिनल पर चालक और सह चालक के लिए डोरमेट्री, शौचालय, स्नानागार और फूड कोर्ट भी बनाने की योजना है।

धनबाद के गोविंदपुर में बनेगा आइएसबीटी, तैयारी शुरू

कोयला नगरी धनबाद के गोविंदपुर में 13 एकड़ में अंतर राज्य बस टर्मिनल का निर्माण किया जाएगा। इसके के लिए गोविंदपुर में 13 एकड़ जमीन चिन्हित की जा चुकी है। बस टर्मिनल पर बसों की आवाजाही के लिए 20 बस-वे तैयार करने का प्रस्ताव है। यह बस टर्मिनल अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। यहां 200 लोगों की क्षमता वाला प्रतीक्षागृह का निर्माण करने का भी प्रस्ताव है। इस टर्मिनल पर 16 टिकट काउंटर और 26 महिला और पुरुष शौचालय, स्नानागार बनाये जायेंगे। कैब, ऑटो और रिक्शा के लिए अलग से 5,135 वर्ग फीट भूमि पर पार्किंग का निर्माण होगा।

डिमना में टर्मिनल बनाने के लिए भूमि हस्तांतरित

जमशेदपुर के मानगो में डिमना चौक, पारडीह में वसुंधरा अपार्टमेंट के पास 13.7 एकड़ जमीन पर आइएसबीटी का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए 10 एकड़ भूमि आइएसबीटी निर्माण के लिए स्वर्णरेखा बहुद्देश्यीय परियोजना से नगर विकास विभाग को हस्तांतरित की जा चुकी है। यहां भी रांची और धनबाद जैसी सुविधाएं होंगी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.