आईओए के कोषाध्यक्ष आनंदेश्वर पांडे ने कलंकित किया खेल को, रेप के आरोपों से घिरे पांडे पर लगा यह भी आरोप

INDIAN OLYMPIC ASSOCIATION NEWS : भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के कोषाध्यक्ष आनंदेश्वर पांडे की बेजा हरकतों के कारण उनकी मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। दुष्कर्म के आरोपों में मुश्किलों का सामना कर रहे पांडे पर अब बर्मिंघम राष्ट्रकुल खेलों से जुड़ा एक दूसरा मामला भी सामने आ गया है। इससे उनकी परेशानियां और बढ़ गई हैं। बता दें कि 2 दिन पहले ही उन पर दुष्कर्म का केस दर्ज हुआ था। आनंदेश्वर पांडे पर अब बर्मिंघम में आयोजित हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में एक महिला चालक के साथ भी यौन शोषण करने का मामला सामने आ गया है। नया मामला सामने आने के बाद आईओए महकमे में भूचाल आ गया है। पांडे के कई आपत्तिजनक फोटो और वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो चुके हैं।

महिला ड्राइवर की टी-शर्ट में डाल दिया था हाथ

बर्मिंघम राष्ट्रकुल खेलों ‘फैमिली सर्विसेज’ के प्रमुख अश्विन लोखरे ने गत पांच अगस्त को आईओए के कार्यवाहक अध्यक्ष अनिल खन्ना को आनंदेश्वर पांडे द्वारा किए गए कारनामे की जानकारी दी थी। आईओए के कार्यवाहक अध्यक्ष को भेजे गए पत्र में अनिल लोखरे ने बताया है कि पांडे ने बर्मिंघम राष्ट्रकुल खेलों के दौरान कैसे वॉलिंटियर महिला ड्राइवर की टी-शर्ट में हाथ डालने की कोशिश की थी। अब इन आरोपों के सामने आने के बाद आनंदेश्वर पांडे के परिवहन विशेषाधिकार (टी2) को रद्द कर दिया गया है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि आनंदेश्वर पांडे के अनुचित व्यवहार के कारण इन खेलों से जुड़ी वॉलंटियर ड्राइवर को असहज स्थिति का सामना करना पड़ा। इसी आलोक में बर्मिंघम 2022 आयोजन समिति ने उनके ‘ परिवहन विशेषाधिकार’ को रद्द करने का निर्णय लिया है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.