Gangs of wasseypur : कोर्ट से गुहार : गैंगस्टर अमन साव ने गिरिडीह कारा अधीक्षक पर लगाया जेल मैनुअल के उल्लंघन का आरोप और …

Jharkhand (झारखंड) के लातेहार जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर अमन साव ने जेल मैनुअल का उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए न्यायिक दंडाधिकारी लातेहार राहुल कुमार की अदालत में पिटीशन दाखिल किया है। अमन के अधिवक्ता सुनील कुमार ने बताया कि उनके मुवक्किल को बिना ट्रायल कोर्ट से आदेश प्राप्त किए राज्य के बाहर के मामलों में सशरीर पेश किया जा रहा है, जो कानून का उल्लंघन है।

अधिवक्ता ने बताया कि लातेहार थाना कांड संख्या 48/ 2020 में मुदालय न्यायिक दंडाधिकारी राहुल कुमार की अदालत में ट्रायल फेस कर रहा है, लेकिन इस अदालत को बगैर कोई सूचना दिए पाकुड़ काराधीक्षक ने उसे पश्चिम बंगाल के अलीपुर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में गत 22 फरवरी को सशरीर पेश किया था।

कुमार ने बताया कि किसी भी विचाराधीन बंदी को बिना ट्रायल कोर्ट का आदेश मिले अन्यत्र पेश करना सीआरपीसी में प्रावधित फॉर्म 36 का स्पष्ट रूप से उल्लंघन है। अधिवक्ता ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय ने उत्तर प्रदेश बनाम जेल अधीक्षक रोपर मामले में निर्देश जारी कर सभी काराधीक्षकों को फार्म 36 पर ट्रायल कोर्ट का काउंटर सिग्नेचर कराने का निर्देश जारी किया था।

मालूम हो इसके अलावा रांची के धुर्वा थाना कांड संख्या 146 /20 में भी अमन साव के अधिवक्ता अभिषेक कृष्ण गुप्ता ने पाकुड़ काराधीक्षक पर जेल मैनुअल का उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए झारखंड उच्च न्यायालय में पिटीशन दाखिल किया है। अमन ने गिरिडीह काराधीक्षक पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने और सूचना का अधिकार कानून के तहत सूचना नहीं देने का भी आरोप लगाया है। अदालत ने दोनों पक्षों की दलीले‌ं सुनने के बाद आदेश को अगले आदेश तक सुरक्षित रखा है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.