यह डॉक्टर है या दरिंदा : महिला मरीज को बेहोशी का इंजेक्शन देकर इस तरह की दरिंदगी की कोशिश, फिर…

जिस इंसान पर समाज भरोसा करे, अगर वह हैवान निकल जाए तो विश्वास आगे कैसे बना रहे। समाज का हर आदमी डॉक्टर पर भरोसा करता है। अगर वह हैवानियत करने लगे तो इस पेशे का क्या होगा। ऐसा ही एक उदाहरण झारखंड में देखने को मिला है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गोड्डा में एक  डॉक्टर की घिनौनी करतूत उजागर हुई है। जिस डॉक्टर के पास विश्वास करके महिला मरीज अपनी जान की रक्षा के लिए पहुंची, उसी डॉक्टर ने महिला की अस्मत लूटने की कोशिश की। वारदात जिले के मेहरामा थाना इलाके की है। पुलिस मामले में गंभीरता के साथ कार्रवाई कर रही है।

पर्दे के पीछे घिनौनी हरकत की कोशिश

थाने को दिए गए आवेदन में महिला के पति ने बताया कि 26 मई को दोनों के बीच पारिवारिक विवाद हुआ था। आक्रोश में महिला ने जहर खा लिया। पति उसे गोड्डा के मेहरमा के डॉ. अमरनाथ कुशवाहा के पास इलाज कराने के लिए ले गया। 27 मई की रात इलाज के दौरान महिला को इंजेक्शन लगाकर पर्दे के पीछे ले जाया गया। पर्दे की आड़ में डॉक्टर ने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने की कोशिश की। पीड़ित महिला के पति के मुताबिक 27 मई की रात को वह काम से अस्पताल के बाहर गया था। हॉस्पिटल का अटेंडेंट भी सोने चला गया। वह जब अंदर आया तो पत्नी बेड पर नहीं थी। खोजते हुए जब वह अंदर गया तो हैरान रह गया। वार्ड में लगे एक पर्दे के पीछे डॉक्टर उसकी पत्नी के साथ आपत्तिजनक व्यवहार कर रहा था। उस समय पत्नी होश में नहीं थी।

पति ने गुस्से में जमकर किया हंगामा, पुलिस कर रही मामले की जांच

गुस्से में उसने जमकर हंगामा किया तो अस्पताल में मौजूद सभी लोग वहां पहुंच गए। इधर डॉक्टर ने पिंड छुड़ाने के लिए मरीज को रेफर कर दिया और फरार हो गया। उसने अपनी पत्नी को तुरंत सदर अस्पताल मेहरमा में भर्ती कराया और पुलिस को सूचना दी।

छानबीन कर रही मेहरमा थाना प्रभारी पल्लवी कुजूर ने बताया कि पीड़िता के पति का आवेदन थाने को दिया गया है। कांड दर्ज कर उचित कार्रवाई की जा रही है। पुलिस डॉक्टर की करतूत पर गंभीर है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.