झारखंड की 822 बेटियों को Tata कंपनी में मिली नौकरी, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने ट्रेन से तमिलनाडु के लिए किया रवाना…

Jharkhand News  : झारखंड की 822 बेटियों को टाटा की कंपनी में नौकरी मिली है। ये बेटियां झारखंड के पिछड़े इलाकों में शुमार खूंटी, तमाड़, सिमडेगा और सरायकेला-खरसावां की हैं। ये सभी इंटर पास हैं। 27 सितंबर को जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा (Arjun Munda) ने हटिया स्टेशन (Hatia Station) से हुसूर (Husur, Tamil Nadu) के लिए स्पेशल ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर उन्हें रवाना किया।

बेटियां बढ़ेगी तभी देश बढ़ेगा : अर्जुन मुंडा

इस अवसर पर झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने हुसूर जा रही बेटियों की हौसलाआफजाई की। उन्होंने कहा कि बेटियां बढ़ेंगी, तभी देश आगे बढ़ेगा। वह खुद उनके अभिभावक के रूप में तमिलनाडु आएंगे और समय-समय पर उनसे मिलते रहेंगे। डरने की कोई बात नहीं है। हिम्मत के साथ आपलोग जाएं और अपनी ट्रेनिंग पूरी करें।

झारखंड में आयेंगे 30 करोड़ रुपये

अर्जुन मुंडा ने कहा कि टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स में चुनी गईं झारखंड की बेटियों की वजह से प्रदेश में हर साल 30 करोड़ रुपये आएंगे। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में और बच्चियों को इसी तरह से प्रशिक्षण और नौकरी मिले, इसकी व्यवस्था उनका मंत्रालय करेगा। उन्होंने कहा कि जब वह झारखंड के मुख्यमंत्री थे, तब झारखंड की बेटियों के लिए दो महत्वपूर्ण योजनाओं की शुरुआत की थी। उन्होंने कहा कि आप ट्रेनिंग लें, बाद में अपनी जैसी अन्य लड़कियों को भी ट्रेनिंग दें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.