हेमंत सरकार ने मदरसा और संस्कृत विद्यालयों के कर्मियों को दिया बड़ा तोहफा, कैबिनेट की मीटिंग में पेंशन…

Jharkhand News  : 29 सितंबर को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में राज्य कैबिनेट की मीटिंग हुई। इसमें 30 प्रस्तावों को मंजूरी दी गई। हेमंत सोरेन सरकार ने न सिर्फ संस्कृत व मदरसा शिक्षकों को तोहफा दिया है, बल्कि झारखंड राज्य खनिज विकास निगम लिमिटेड को श्रेणी 2 के तहत बालू घाट के संचालन के लिए 16 अगस्त 2022 से तीन साल के लिए अवधि विस्तार दिया है। 180 मदरसों और 11 संस्कृत विद्यालयों के कर्मियों को अंशदायी पेंशन देने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी है। बैठक में रांची के नगड़ी ब्लॉक के मुड़मा मौजा में कुष्ठ रोगियों के लिए कुल 256 आवासों के निर्माण को मंजूरी दी गई। 

JSSC परीक्षा नियमावली में संशोधन को स्वीकृति

झारखंड कर्मचारी चयन आयोग परीक्षा (डिप्लोमा/ तकनीकी एवं अन्य विशिष्ट योग्यता स्तर) संचालन (संशोधन) नियमावली-2021 में आवश्यक संशोधन की स्वीकृति दी गई। झारखण्ड के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग, रांची (उच्च शिक्षा निदेशालय) में वित्त पदाधिकारी एवं अंकेक्षण पदाधिकारी के अतिरिक्त पद सृजन की स्वीकृति दी गई। जल संसाधन विभाग के अंतर्गत पुनरीक्षित पुनर्वास नीति-2012 के अवधि विस्तार की स्वीकृति दी गई। स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग अंतर्गत राज्य के सिविल सर्जनों तथा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के प्राचार्य एवं अधीक्षक के उपयोग के लिए बाह्य स्रोत के माध्यम से वाहन रखते हुए इस्तेमाल करने की स्वीकृति दी गई।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.