Jharkhand news : अपराधी बि्टटू सिंह ने पलामू के सीमेंट कारोबारी अग्रवाल बंधुओं से मांगी 50 लाख की रंगदारी, बोला- गोला गोली खाली नहीं जाएगी 

Palamu, Jharkhand Crime News : लगता है पलामू पुलिस का अपराधियों पर कोई जोर नहीं है। रंगदारी और गुंडई करने वाले अपराधियों का जिले में बोलबाला होता जा रहा है। अपराधियों पर ध्यान ही नहीं दे रही है। पिछले 20 अगस्त को अपराधी बि्टटू सिंह ने सीमेंट कारोबारी अग्रवाल बंधुओं (अनिल कुमार अग्रवाल और सुनील कुमार अग्रवाल) से 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी थी। इसके बाद अंग्रवाल बंधुओं की दुकान के सामने फायरिंग कर उन्हें चेतावनी भी दी थी। लेकिन पुलिस चुपचाप बैठी रही। उसने संबंधित अपराधी पर कोई कार्रवाई भी नहीं की। इस कारण अपराधी का मनोबल बढ़ता जा रहा है। अब उसने फिर से अग्रवाल बंधुओं को 50 लाख रुपए की रंगदारी देने की धमकी दी है। उसने कहां है कि अगर इस बार रंगदारी नहीं मिली तो गोली खाली नहीं जाएगी।

सड़क पर उतरे पलामू के व्यवसायी

रंगदारी मांगे जाने की घटना के बाद से अग्रवाल बंधुओं का परिवार दहशत में है। इस घटना के विरोध में पलामू स्थित हैदरनगर के व्यवसायी आक्रोशित हो गए हैं। व्यवसायी सड़क पर उतर कर रंगदारी के लिए धमकी देने वाले अपराधी की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। इस मामले से पुलिस को भी अवगत करा दिया गया है। व्यवसायी इस घटना के लिए पुलिस की लापरवाही को जिम्मेवार ठहरा रहे हैं। इस घटना के विरोध में व्यवसायी संघ ने अनिश्चितकालीन दुकानें बंद रखने का फैसला किया है। व्यवसाई एकजुट होकर सड़क जाम कर रंगदारी मांगे जाने का विरोध और सुरक्षा की मांग कर रहे हैं।

गुरुवार की सुबह मिला था धमकी भरा पर्चा

कारोबारी अग्रवाल बंधुओं की दुकान के सामने गुरुवार की सुबह एक धमकी भरा पर्चा मिला। इसमें लिखा था कि यह अंतिम वार्निंग है। अगर 50 लाख रुपए रंगदारी के रूप में नहीं मिले तो एक भी गोली खाली नहीं जाएगी। पर्चे में अपराधी बिट्टू सिंह का नाम लिखा हुआ है। इस घटना के विरोध में व्यवसायियों के आंदोलन शुरू किए जाने के बाद इंग्लिश की नींद टूट गई है। फिलहाल वह मामले की जांच में जुट गई है। पुलिस यह पता लगाने में जुटी है कि धमकी भरा पर्चा अपराधी बिट्टू सिंह ने भेजा है या किसी दूसरे ने उसके नाम का इस्तेमाल किया है। जांच के बाद ही इस मामले में कार्रवाई की जाएगी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.