… और देखिए कैसे झारखंड के पूर्व कृषि मंत्री योगेंद्र साव को ग्रामीणों ने बना लिया बंधक, 4 घंटे के बाद…

Jharkhand News, Ranchi, Ex. Agriculture minister Yogendra Saw, Villagers Protested : झारखंड के पूर्व कृषि मंत्री योगेंद्र साव को 20 अक्टूबर को चार घंटे तक ग्रामीणों ने बंधक बनाकर रखा। बीच सड़क पर ग्रामीणों ने बांस-बल्ली से उनका रास्ता रोका। ग्रामीणों ने उनके ऊपर जमीन कब्जा करने का आरोप लगाया है। बाउंड्री का काम रोकने का भरोसा देने के बाद लोगों ने उन्हें छोड़ा। योगेंद्र साव विधायक अंबा प्रसाद के पिता हैं और कुछ दिनों से पतरातू के रिसॉर्ट में रह रहे हैं। मामला रामगढ़ जिले के पतरातू प्रखंड के हरिहरपुर पंचायत के मेलानी गांव का है।

पिता और बेटी दोनों के खिलाफ नारेबाजी

योगेंद्र साव पर ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि जबरन गांव की जमीन पर वह कब्जा कर रहे हैं। मेलानी गांव के लोगों का कहना है कि पतरातू डैम के किनारे 2 एकड़ 42 डिसमिल जमीन ग्रामीणों की है। पूर्व कृषि मंत्री योगेंद्र साव और विधायक अंबा प्रसाद मिलकर जबरन इस जमीन पर कब्जा कर रहे हैं। ग्रामीण इसका विरोध कर रहे हैं। इसी विरोध के तहत ग्रामीणों ने योगेंद्र साव का रास्ता रोक लिया और कृषि मंत्री और विधायक अंबा प्रसाद के खिलाफ भी नारेबाजी की।

पहले भी दुर्व्यवहार का आरोप

योगेंद्र साव पर पहले भी रिसार्ट के कर्मचारियों ने दुर्व्यवहार का आरोप लगाया था। योगेद्र साव डैम के पास उचरिंगा में टर्निंग पाॅइंट नामक रेस्टोरेंट के पीछे स्थित 39 डिसमिल जमीन पर भी कब्जे का आरोप लगा था। पतरातू में पूर्व कृषि मंत्री योगेंद्र साव के समर्थकों ने लेक रिसॉर्ट में हंगामा किया था।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.