2 साल से खड़ी थी यह ट्रेन, टाटानगर से चली तो बज उठी खुशी की बांसुरी, क्योंकि…

Jharkhand news: भारतीय ट्रेनों को यूं ही देश की धड़कन नहीं कहा जाता है। जनता के जीवन को ट्रेनें अपने साथ जोड़े रखती हैं, इसीलिए जीवन की धड़कन हैं। अब अगर दो स्थानों के बीच कोई ट्रेन शुरू हुई और शुरू होने के बाद फिर बंद हो गई या खड़ी हो गई तो यह क्षेत्र के लोगों के लिए दुखद होता है। टाटानगर से जम्मू तवी तक जाने वाली ट्रेन लगभग सवा 2 साल से खड़ी थी अर्थात उसका परिचालन बंद हो गया था। 1 जुलाई को टाटानगर से जब इसका संचालन पुनः शुरू हुआ तो क्षेत्र के हर नागरिक में हृदय में खुशी की बांसुरी बज उठी। शहर वासियों के लिए खुशी का ठिकाना ना रहा। वहां मौजूद पूर्व विधायक मेनका सरदार समेत अन्य प्रतिनिधियोें ने झंडा दिखाकर ट्रेन को रवाना किया।

 वैष्णो देवी जानेवाले यात्रियों को सुविधा

 मौके पर भाजपा नेता सतवीर सिंह सोमू ने सांसद विद्युत वरण महतो, झारखंड प्रदेश गुरुद्वारा कमेटी के प्रधान सरदार शैलेंद्र सिंह एवं समाज के तमाम गणमान्य लोगों के प्रति आभार जताया और कहा कि इनके आंदोलन का ही नतीजा है कि आज सवा दो साल बाद इस ट्रेन का परिचालन शुरू हाे गया। इसके शुरू होने से दिल्ली, पंजाब और वैष्णो देवी जानेवाले यात्रियों की यात्रा सुखद होगी।

झारखंड प्रदेश गुरुद्वारा कमेटी के प्रधान सरदार शैलेंद्र सिंह ने ट्रेन में सवार यात्रियों में  लड्डू बांटकर उनका मुंह मीठा कराया। ट्रेन चालक को अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया गया।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.