Jharkhand news : दूसरे दिन भी खूब बरपा सदन में हंगामा, वादाखिलाफी का आरोप लगा कर भाजपा विधायकों ने सरकार को घेरा

Jharkhand latest Hindi news: झारखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को भी भाजपा विधायकों ने प्रदर्शन किया। बेरोजगारी, नियोजन नीति समेत कई मुद्दों को लेकर सरकार पर युवाओं से वादाखिलाफी का आरोप लगाया। भाजपा विधायकों ने गेट के बाहर ‘जो वादा किया, वो निभाना पड़ेगा’ गाना गया। विधायकों ने कहा कि यह सरकार झारखंड के बेरोजगार नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। फर्जी नियोजन नीति बनानेवाली सरकार को शर्म करनी चाहिए।
सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले विपक्ष के मुख्य द्वार पर भाजपा विधायकों ने प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। हाथों में ‘फर्जी नियोजन नीति बनानेवाली ठग हेमन्त सरकार शर्म करो’, ‘झारखंड के बेरोजगार नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करना बंद करो’ का बैनर लेकर विपक्षी हंगामा कर रहे थे। भाजपा विधायक राज सिन्हा ने कहा कि हेमन्त सरकार ने फर्जी नियोजन नीति बना कर राज्य के युवाओं को ठगने का काम किया है। भाजपा पहले से ही कह रही थी कि जो नीति सरकार ने बनायी है, उसमें सिर्फ त्रुटियां ही नहीं, बल्कि संविधान के मौलिक अधिकार का हनन भी है। अंत में कोर्ट ने सरकार की गलत नियोजन नीति को खारिज कर दिया।
विधायक मनीष जायसवाल ने कहा कि इस सरकार में जनहित के नहीं, बल्कि स्वहित के काम हो रहे हैं। हर वर्ष पांच लाख नौकरी देने का वादा कर सत्ता में आयी हेमन्त सरकार तीन वर्ष बीत जाने के बाद एक भी नौकरी नहीं दे सकी। इतना ही नहीं, जिस तरह से सरकार लगातार गलत नीतियां बना रही है, उसका खमियाजा राज्य के युवाओं को भुगतना पर रहा है। विधायक अमर बाउरी ने कहा कि राज्य सरकार सिर्फ अपनी विफलता को छिपाने के लिए गलत नीतियां बना रही है। जब कोर्ट से उसकी गलत नीतियां खारिज हो जाती है, तो राजभवन जाने का नाटक करती है। उन्होंने कहा कि यह सरकार गरीब विरोधी, युवा विरोधी है। इस सरकार से किसी का भला नहीं होनेवाला है।
कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह, इरफान अंसारी और अम्बा प्रसाद विधानसभा मुख्य द्वार पर धरना पर बैठे। विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने कहा कि झारखंड में आरएसएस का एजेंडा नहीं चलेगा। यह सच है कि कोर्ट ने नियोजन नीति को रद्द कर दिया, लेकिन सरकार इसे लेकर नये रास्ते की तलाश कर रही है। भाजपा के लोग इसे लेकर अनर्गल प्रलाप कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज ही मुख्यमंत्री सभी दलों के विधायकों के साथ राज्यपाल से मिलने जा रहे हैं, जिसमें 1932 खतियान और ओबीसी आरक्षण बिल पर जल्द सहमति देने का आग्रह राज्यपाल से करेंगे। इसमें सहयोग नहीं कर भाजपा बेवजह हंगामा कर रही है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *