किसी को भनक भी नहीं लगी और जिम करते-करते इस युवक की निकल गई जान

जिम में लोग सेहत बनाने और बॉडी बिल्डिंग को मजबूत करने के लिए जाते हैं। जिम में वर्कआउट करने वाले लोग सामान्यतः साहसी और बुलंद इरादा वाले माने जाते हैं। अगर किसी जिम में वर्कआउट करते-करते अचानक किसी युवक की जान निकल जाती है और इसके पहले किसी को कुछ पता नहीं चलता है तो वाकई यह आश्चर्यजनक घटना है। झारखंड के पलामू जिले में ऐसी ही घटना घटी है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मामला ज़िला मुख्यालय मेदिनीनगर के बस स्टैंड के पास स्थित फिटनेस क्लब का है। 23 जून की सुबह वर्कआउट करने गए 37 साल के पपलू दीक्षित ने अचानक जिम में ही दम तोड़ दिया।

आधा घंटा मेहनत करने के बाद हो गई मौत

बताया जा रहा है कि चैनपुर के रहने वाले पपलू डालटनगंज सेंट्रल जेल में कंप्यूटर ऑपरेटर के पद पर कार्यरत थे। वह पिछले तीन माह से नियमित रूप से जिम में आ रहे थे। गुरुवार की सुबह भी वह हर दिन की तरह करीब छह बजे जिम पहुंचे। आधे घंटे मेहनत करने के बाद उनकी मौत हो गई।

अचानक हो गए बेहोश, उसके बाद मौत

संचालक कौशल यादव के मुताबिक पपलू ने गुरुवार को करीब आधा घंटा अलग-अलग तरह का वर्कआउट किया। इसी दौरान वजन उठाते हुए पपलू अचानक बेहोश हो गए। जिम में मौजूद लोगों ने चेहरे पर पानी डाला। उन्हें होश में लाने का प्रयास किया। पपलू पर इसका कोई असर नहीं हुआ। उन्हें तत्काल एमएमसीएच इलाज के लिए लाया गया। चिकित्सकों ने उन्हें जांच के बाद मृत घोषित कर दिया।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद पता चल पाएगा मौत का कारण

 पपलू के शव का पोस्टमार्टम कराया गया। पुलिस और परिवार के लोगों को रिपोर्ट का इंतजार है। घटना के बाद जिम संचालक ने जिम को बंद कर दिया। पलामू के श्री नारायण मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल के चिकित्सक डॉ. गौरव अग्रवाल ने कहा कि मौत की असली वजह का पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही चलेगा। संभव है कि युवक हार्ट अटैक का शिकार हुआ हो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.