रांची में हुए पथराव और फायरिंग मामले में 9 FIR, 10 हजार अज्ञात लोगों को बनाया आरोपी, जांच के लिए SIT गठित

Jharkhand (झारखंड) की राजधानी रांची के मेन रोड में 10 जून की शाम को हुए पथराव व फायरिंग मामले में तीन थानों में नौ एफआईआर दर्ज की गई है। 10,000 से अधिक अज्ञात लोगों को भी आरोपी बनाया गया है। डेली मार्केट में तीन, लोअर बाजार में पांच और हिंदपीढ़ी में एक प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसमें बिहार के पथ निर्माण मंत्री नीतिन नवीन द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी शामिल है। उन्होंने अपनी गाड़ी में तोड़-फोड़ को लेकर डेली मार्केट थाने में अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज करवाया है।

पुलिस की ओर से चार FIR

पुलिस की ओर से अलग-अलग थानों में चार एफआईआर दर्ज की गई है। चार प्राथमिकी आम लोगों ने दर्ज करायी है। पुलिस की ओर से दर्ज करायी गई प्राथमिकी में 26 नामजद और साढ़े दस हजार अज्ञात को आरोपी बनाया गया है। इनमें सरकारी काम में बाधा डालने, सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और धार्मिक स्थल में तोड़फोड़ आदि के आरोप लगाए गए हैं। आम लोगों की ओर से दर्ज प्राथमिकी में घर व वाहन में तोड़-फोड़ का आरोप लगाया गया है।

भीड़ ने पथराव किया तो आत्मरक्षा में चलाई गोली

डेली मार्केट थाना में दो अलग-अलग एफआईआर दर्ज हुई है। रांची अंचल सीओ अमित भगत की ओर से दर्ज करायी गई पहली प्राथमिकी में आरोप लगाया गया है कि बिना अनुमति के एकरा मस्जिद के पास से जुलूस निकाला गया। पुलिसकर्मियों ने उर्दू लाइब्रेरी के पास जुलूस को रोका पर प्रदर्शनकारी धक्का देकर आगे बढ़ गए। फिर टैक्सी स्टैंड के पास रोका गया। इस दौरान पुलिस व प्रदर्शनकारियों के बीच धक्का-मुक्की हुई। पुलिस ने जब भीड़ को हटाने के लिए बल प्रयोग किया तो भीड़ उग्र हो गई और पथराव करने लगी। इसमें कई पुलिसकर्मी समेत आम लोग जख्मी हो गए। पुलिस ने आत्मरक्षा में फायरिंग की। इस भीड़ में आठ से दस हजार लोग शामिल थे। सीओ की दूसरी प्राथमिकी में आरोप लगाया गया है कि भीड़ ने धार्मिक स्थल में तोड़-फोड़ की। लोअर बाजार थाना में भी तोड़-फोड़ व उपद्रव मचाने की प्राथमिकी दर्ज की गई है। वहीं हिंदपीढ़ी थाने में पुलिस ने चार नामजद और पांच सौ अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।

सिटी एसपी के नेतृत्व में SIT

इस पूरे प्रकरण की जांच और उपद्रवियों की धरपकड़ के लिए सिटी एसपी अंशुमान कुमार के नेतृत्व में एसआइटी का गठन किया गया है। एसआइटी में कोतवाली डीएसपी, सिटी डीएसपी, साइबर सेल की डीएसपी, कोतवाली थानेदार, लोअर बाजार थानेदार, हिंदपीढ़ी, चुटिया सहित अन्य थानों के थानेदारों को शामिल किया गया है। शनिवार को पुलिस ने डेली मार्केट के आसपास की दुकानों में छापेमारी की। इस दौरान पुलिस को एक यूपी नंबर की बाइक मिली है जिसे जब्त कर लिया गया है। पुलिस को आशंका है कि उपद्रवियों ने डेली मार्केट के आसपास की दुकानों में ही पनाह लेने के बाद अचानक बवाल किया। वहां पत्थर व हथियार छुपाने की आशंका पर पुलिस ने सभी दुकानों को खंगाला। पुलिस पथराव वाले स्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही र्है ताकि उपद्रवियों की पहचान हो सके।

12 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू, हिंदपीढी को किया गया सील

रांची के 12 थाना क्षेत्र में धारा 144 लागू कर दी गई है। इसका प्रशासन की ओर से सख्ती से पालन कराया जा रहा है। हालांकि सुबह शहर के कई इलाकों में पुलिस ने माइक से शहर में कर्फ्यू लागू रहने की बात कह लोगों से अपने घरों में रहने की अपील की। हालांकि एसडीएम दीपक दुबे ने स्पष्ट किया कि धारा 144 लागू की गई है, कर्फ्यू कहीं नहीं लगाया गया है। मेन रोड के हिंदपीढ़ी की सभी गलियों को सील कर दिया गया है। किसी को बाहर जाने और प्रवेश करने नहीं दिया जा रहा था। सभी इंट्री प्वाइंट पर रैफ और पुलिस बल की तैनाती की गयी है। लोगों से शांति बनाए रखने और घरों में रहने की अपील पुलिस प्रशासन के अधिकारी लगातार कर रहे थे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.