चट्टान पर पैर फिसला और देखते ही देखते मौत की गोद में समा गया यह युवक…

कब किसकी मौत कैसे आए, यह कोई नहीं बता सकता। लेकिन, मौत आनी है तो आकर रहेगी। कोई रोक भी नहीं सकता, उम्र चाहे जो हो। ऐसी ही एक दुखद घटना झारखंड की राजधानी रांची के अनगड़ा में हुई है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, यहां जोन्हा फॉल में नहाने के दौरान 12वीं क्लास में पढ़ने वाले एक छात्र आदित्य उपाध्याय की डूबकर मौत हो गई। नहाते वक्त चट्टान पर पैर फिसला और अचानक कुछ सेकेंड में ही युवक मौत की गोद में समा गया। 

रांची में जैप वन में कार्यरत हैं पिता

बताया जा रहा है कि डूबने समय एक दूसरे छात्र आदित्य भारद्वाज को साथियों ने बचा लिया। मृतक आदित्य उपाध्याय (18वर्ष) सरला-बिलला पब्लिक स्कूल महिलौंग में 12वीं का छात्र था। वह डोरंडा के अरविंदों नगर का रहने वाला था। उसके पिता संदीप उपाध्याय जैप-वन में साक्षर सिपाही के पद पर कार्यरत हैं।

चार दोस्तों के साथ गया था नहाने

बताया जाता है कि आदित्य 2 जून को 12वीं की परीक्षा का अंतिम विषय लिखने के बाद अपने चार दोस्तों-  नवीन मेहता (वर्दमान कंपाउंड लालपुर चौक), रायन मित्रा (बैंक कॉलोनी कोकर), सक्षम वर्मा (वर्दमान कंपाउंड लालपुर) और आदित्य भारद्वाज (श्री साईं इन्क्लेव नामकुम) के साथ जोन्हा फॉल घूमने गया था। नीचे झरने के पास वह अपने दोस्तों के साथ नहाने के लिए पानी में उतर गया। इसी दौरान चट्टान पर से उसका पैर फिसल गया और वह अनियंत्रित होकर गहरे पानी में चला गया। जीवन रक्षक दल के सदस्य डूब चुके छात्र को जब तक बाहर निकालते, उसकी मौत हो चुकी थी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.