मानसून आने के पहले बारिश की बौछार ने गर्मी से दिलाई राहत, शाम से रात तक…

Jharkhand (झारखंड) में लंबे समय तक गर्मी की परेशानी से लोग तंग आ चुके थे। मानसून का इंतजार बेसब्री से हो रहा है।  इस बीच यह सुखद प्राकृतिक स्थिति 14 जून की शाम से शुरू हुई, जिसमें धीरे-धीरे बारिश शुरू होकर रात में तेज बौछार में बदल गई और लोगों को गर्मी से बड़ी राहत मिली। राजधानी रांची मेें दोपहर में सामान्य और देर शाम झमाझम बारिश हुई। अन्य जिलों के कुछ स्थानों पर भी बारिश की खबर मिली है। मौसम विभाग की मानें, तो यह मानसून आने के पूर्व की बौछार है।  बता दें कि राज्य में संताल परगना के साहिबगंज क्षेत्र से इस बार मानसून आने की संभावना है। 15 जून की सुबह में भी राची में बादल छाए हुए हैं। मौसम कूल कूल है और ऐसा लग रहा है मानो कभी भी बारिश आ सकती है। 16 और 17 जून को भी मौसम विभाग ने झारखंड में रांची सहित अन्य जिलों में बारिश होने की संभावना जताई है।

16 जून को मानसून आने की संभावना

मौसम केंद्र, रांची के प्रभारी अभिषेक आनंद के मुताबिक, मंगलवार की देर शाम को हुई बारिश को मानसून आने के पहले की बारिश मानी जा सकती है। इससे उम्मीद जगी है कि 16 जून तक संताल परगना के क्षेत्र में मानसून के आने की संभावना है. इधर, देर शाम को हुई तेज बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली है।

इन जिलो में यलो अलर्ट

मौसम विभाग ने राज्य के कई जिलों में यलो अलर्ट जारी किया है। इसके तहत रांची, गुमला, गढ़वा, बोकारो, धनबाद, पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां, पाकुड़, लातेहार, रामगढ़, दुमका, हजारीबाग, देवघर, गिरिडीह, जामताड़ा, लातेहार, लोहरदगा में हल्के से मध्यम दर्जे की मेघ गर्जन और वज्रपात के साथ बारिश की चेतावनी जारी की है। साथ ही जिले के कुछ इलाकों में हवा की गति 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.