|

तकदीर का बादशाह : मजबूरी में खरीदी लॉटरी, जीत गया 12 करोड़, इसके बाद…

Kerala News, Apex of Fate  : 

तकदीर का फसाना अरमान की चिताएं जलाने वाला होता है, तो तकदीर को बादशाहत देने वाला भी हो सकता है। उर्दू के प्रख्यात शायर शकील बदायूनी ने लिखा है- ‘तकदीर का फसाना जाकर किसे सुनाएं, इस दिल में जल रही हैं अरमान की चिताएं।’, मगर जीवन की बगिया में अगर तकदीर का फसाना अरमान के फूल खिलाने लगे, तो बात इसके विपरीत हो ही जाती है। केरल के सदानंद के साथ कुछ ऐसा ही हुआ। मजबूरी ने एक लॉटरी खरीदवाई और वह बन गए 12 करोड़ के मालिक।

सब्जी वाले के पास नहीं था छुट्टा

जानकारी के अनुसार, सदानंद को 500 रुपये का छुट्टा कराना था। इसके लिए उन्होंने मजबूरन एक लॉटरी का टिकट खरीदा। इस लॉटरी के टिकट ने उनकी किस्मत बदल दी। वह मजबूरी में खरीदे गए इस टिकट से करोड़पति बन गए। दरअसल में सब्जी खरीदने के लिए घर से निकले थे। उनके पास 500 रुपये का एक नोट था। सब्जी वाले के पास छुट्टा नहीं था, इसलिए मजबूरी में उन्हें लॉटरी का एक टिकट खरीदना पड़ा, तब जाकर वह सब्जी ले पाए।

कुछ घंटे में ही बदल गई किस्मत

  कुछ घंटे बाद ही उनकी किस्मत तब बदल गयी, जब उन्हें पता चला कि वे जैकपॉट जीते हैं। जैकपॉट में सदानंद पूरे 12 करोड़ रुपये जीते। हालांकि सदानंद ने पहले भी कई बार लॉटरी खरीदी, मगर कभी भी उनकी किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया था, मगर अब तो बादशाह ही बना दिया।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *