KOLKATA : भवानीपुर दंपत्ति हत्याकांड में हत्यारे तक पहुंची पुलिस, दो गिरफ्तार, मुख्य सरगना अभी भी बंगाल पुलिस की पकड़ से दूर

कोलकाता के भवानीपुर थाना अंतर्गत गुजराती दंपत्ति अशोक शाह और रश्मिता हत्याकांड की गुत्थी आखिरकार बंगाल पुलिस ने सुलझा ली है। इस मामले में गुरुवार की सुबह दो लोगों को पश्चिम बंगाल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन अभी तक इनके नाम का खुलासा पुलिस ने नहीं किया है।  जांच अधिकारियों ने बताया है कि दंपत्ति के किसी परिचित ने ही हत्या की योजना बनाई और अपराधियों की मदद से हत्या करवाई है। अभी भी इस हत्याकांड का मुख्य सरगना गिरफ्त में नहीं आया है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है।

 रुपए के लेन-देन को लेकर की गई दंपति की हत्या

बताया जा रहा है कि रुपये के लेनदेन के लिए ही दंपत्ति की हत्या हुई है। घटना की जांच में शामिल एक अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया है कि अशोक शाह के मंझले दमाद के एक दूर के रिश्तेदार ने शाह से एक लाख रुपये कर्ज लिया था। रुपये वापस देने के लिए अशोक शाह दबाव बना रहे थे। इसी बीच कर्ज लेने वाले व्यक्ति की मौत हो गई थी। उसके बाद उसके भाई ने रुपये वापस देने का वादा किया था। आरोप है कि उसी ने दंपत्ति की हत्या की योजना बनाई और अपने शागिर्दों को लेकर सोमवार को अशोक शाह के घर पहुंचा था। क्योंकि सारे लोग परिचित थे इसलिए दंपत्ति ने दरवाजा खोल दिया था और अंदर चाय पानी के बाद योजनाबद्ध तरीके से हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया।

अशोक को पीछे से मारी गई गोली, खूब हुई हाथापाई

अशोक शाह को अपराधियों ने पीछे से गोली मारी थी। इस दौरान जमकर हाथापाई भी हुई । उसके बाद शाह की पत्नी को मौत के घाट उतारा गया था। घटना को लूट के लिए हत्या का रूप देने के लिए घर से कुछ गहने व रुपये लेकर हत्यारे फरार हुए थे। सीसीटीवी फुटेज से इनकी शिनाख्त होने के बाद पुलिस ने अशोक शाह के मंझले दामाद और उनके दूर के रिश्तेदार से पूछताछ की थी। इसके बाद इनके बारे में जानकारी मिली थी। पुलिस का कहना है कि हत्या की पूरी योजना बनाने वाले मास्टरमाइंड की गिरफ्तारी के बाद ही इस मामले में पूरी जानकारी मिल सकेगी। बता दें कि एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पुलिस आयुक्त विनीत गोयल को साथ लेकर घटनास्थल पर पहुंची थीं। उन्होंने दावा किया था कि हत्यारों की शिनाख्त हो गई है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.