भाजपा के विधायक ढुल्लू महतो के खिलाफ कुंती देवी 26 दिन से बैठी थीं भूख हड़ताल पर, कांग्रेस नेता जलेश्वर महतो व विजय झा ने जूस पिला कर तुड़वाया 

भाजपा विधायक ढुल्लू महतो के खिलाफ भूख हड़ताल पर बैठी कुन्ती देवी का आंदोलन रविवार को 26वें दिन खत्म हो गया। झारखण्ड प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष जलेश्वर महतो एवं समाजसेवी सह पूर्व बियाडा अध्यक्ष विजय झा ,नियुक्त मजिस्ट्रेट प्रभात कुमार ने कुंती देवी,उनके पति अशोक महतो समेत अनशन पर बैठे उनके परिवार के सदस्यों को जूस पिलाकर अनशन तोड़वाया। मौके पर विकाश सिंह, जुबैर आलम,गौतम मंडल,अनिल पांडेय,नितेश ठक्कर के अलावे मौजूद रहे।

समझोते में बनी थी सहमति 

गौरतलब है कि 27 मई को बाघमारा अंचल अधिकारी कमल किशोर सिंह ,बरोरा थाना प्रभारी नीरज कुमार ,विधायक प्रतिनिधि शरद महतो और द्वितीय पक्ष के शांति देवी के पति चरकु महतो के बीच हुई पीड़ित अशोक महतो , पुत्री सुनीति , सुरेश महतो ओर कांग्रेस नेता विकाश सिंह के साथ वार्ता हुई। इसमें दोनों के बीच यह सहमति बनी की चिटाही स्थित राम राज मंदिर में जो जमीन का मामला है, उस पर जब तक कोर्ट का फैसला नही आ जाता, तब तक द्वितीय पक्ष शांति देवी और अशोक महतो उक्त जमीन पर आधे – आधे में दुकान खोलेंगे। इसके बाद अशोक महतो ने 29 मई को अनशन समाप्त कर दिया। शनिवार को प्रशासन के द्वारा कुंती देवी के दुकान के सामने से पानी के टैंकर को हटवा देने के बाद कुंती देवी का व्यवसाय पुनः संचालित होने योग्य स्थित में ला दिए जाने से कुंती देवी एवं उनके परिवार ने राहत भरी सांसे ली है।

4 मई से पूरे परिवार के साथ बैठी थी भूख हड़ताल पर

गौरतलब है कि कुंती देवी के द्वारा यह आरोप लगाया गया था कि बाघमारा विधायक ढुल्लू महतो द्वारा दबंगता पूर्वक पुश्तेनी जमीन को अनैतिक एवं गैरकानूनी तरीके से हड़पने की नीयत से चिटाही बस्ती स्थित पुश्तेनी जमीन पर संचालित दुकान के सामने पानी का टैंकर सटाकर खड़ा कर दिया था। उक्त पानी के टैंकर के आगे और पीछे शेष बची खाली जगह को भी विधायक द्वारा अनावश्यक रूप से ईंट रखवा कर दुकान को पूर्णतः असंचलित योग्य कर दिया गया था। इसके खिलाफ कुन्ती देवी और उनका पूरा परिवार 4 मई से धनबाद के रणधीर वर्मा चौक पर अनशन पर बैठा था।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.