|

Marathi film har har Mahadev controversy : क्यों बरपा है मराठी फिल्म हर-हर महादेव के विरोध में हंगामा, फिल्म निर्देशक अभिजीत देशपांडे को दी गयी सुरक्षा

Marathi film har har Mahadev latest news:  मराठी फिल्म हर-हर महादेव का विरोध करने पर पूर्व मंत्री जीतेंद्र आव्हाड समेत राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के 100 कार्यकर्ताओं के विरुद्ध ठाणे में प्राथमिकी दर्ज की गई है। इस फिल्म का भारी विरोध होता देख पुलिस ने फिल्म निर्देशक अभिजीत देशपांडे को सुरक्षा प्रदान की है। विरोध पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि उन्होंने इस फिल्म को नहीं देखा है, इसलिए फिल्म पर अपनी राय जाहिर नहीं कर सकते। यदि किसी को इस फिल्म से परेशानी है तो उसका विरोध कानूनी रूप से करे। हिंसक विरोध बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

फिल्म के माध्यम से गलत इतिहास परोसा जा रहा

इस फिल्म का विरोध करने वाले राकपा नेता और पूर्व मंत्री जीतेंद्र आव्हाड का कहना है कि फिल्म में कई दृश्यों को गलत तरीके से चित्रित किया गया है, जो वास्तविकता से परे हैं। इस फिल्म के माध्यम से गलत इतिहास परोसा जा रहा है। बता दें कि छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज छत्रपति संभाजी राजे ने भी इस फिल्म का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि इस फिल्म में कई घटनाएं वास्तविकता से कोसों दूर है। इससे समाज को छत्रपति शिवाजी महाराज के बारे में गलत जानकारी मिलेगी। इसी वजह से वे इस फिल्म का जोरदार विरोध कर रहे हैं। साथ ही, संभाजी ब्रिगेड ने भी इस फिल्म का जोरदार विरोध किया है। 

निर्देशक की अपील-पहले फिल्म देखें तब करें विरोध

इधर, फिल्म के निर्देशक अभिजीत देशपांडे ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि इस फिल्म में जिन दृश्यों का विरोध किया जा रहा है, उसे सेंसर बोर्ड ने ही पास किया है। जो लोग विरोध कर रहे हैं, उन्होंने यह फिल्म देखी ही नहीं है। फिल्म का निर्माण कई पुस्तकों के आधार पर किया गया है। निर्देशक अभिजीत देशपांडे ने इस फिल्म का विरोध करनेवालों से पहले फिल्म देखने की अपील की है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *