Ola- Uber and rapido service closed : ओला-उबर और रैपिडो को नियम की अवहेलना करना पड़ा भारी, सरकार ने 3 दिनों में सर्विस बंद करने का दिया निर्देश 

Government big decision : लगातार मिल रही यात्रियों की शिकायत के बाद एप आधारित कैब कंपनियों (cab companies) ओला, उबर और रैपिडो पर कर्नाटक सरकार ने बड़ा फैसला (big decision) किया है। सरकार के इस फैसले से इन कंपनियों को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। कर्नाटक सरकार (karnatak government) द्वारा जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि यात्रियों की शिकायत को देखते हुए ओला, उबर और रैपिडो की सेवाएं अगले 3 दिनों के अंदर बंद कर दी जाएंगी। राज्य सरकार ने इन कैब कंपनियों को अवैध (black listed) घोषित कर दिया है। 

चेतावनी देने के बाद भी नियम तोड़ रही थीं कंपनियां

कर्नाटक सरकार (karnatak government) के फैसले के बाद राज्य परिवहन विभाग की ओर से उपर्युक्त सभी कैब सर्विस देने वाली कंपनियों को नोटिस (notice) भेजा गया है। इसमें विभाग द्वारा उन्हें अगले तीन दिनों के भीतर कर्नाटक में अपनी ऑटो सेवाएं बंद (auto service closed within 3 days) करने का निर्देश जारी किया गया है। विभाग में कहा है कि लगातार मिल रही शिकायतों के कारण सरकार को यह कड़ा फैसला लेना पड़ा है। क्योंकि बार- बार चेतावनी देने के बाद भी इन कंपनियों की गतिविधियों में सुधार होता नहीं दिख रहा था।

यात्रियों से ज्यादा पैसे वसूल रही थीं कैब कंपनियां

मिली जानकारी के अनुसार कर्नाटक में ओला, उबर और रैपिडो में यात्रा करने वाले यात्रियों ने सरकार से शिकायत की थी कि दो किलोमीटर से कम दूरी होने के बाद भी ये कंपनियां न्यूनतम 100 रुपये किराया वसूलती हैं, जबकि सरकार के नियमों के अनुसार ऑटो चालक पहले 2 किलोमीटर के लिए 30 रुपये और उसके बाद 15 रुपये प्रति किलोमीटर के हिसाब से यात्रियों पर चार्ज कर सकते हैं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *