पैगंबर विवाद : पाकिस्तान ने भारत में हिंसा की आग में डाला घी, लोगों को इस तरह भड़काया…

Paigambar Controversy : पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी के बाद भारत में उप जी हिंसा की आग में पाकिस्तान ने घी डालने का काम किया इसमें कुछ अन्य देशों की भी भूमिका मानी जा रही है। पैगंबर पर टिप्पणियों का अब फिलीस्तीन से भी विरोध हो रहा है। यरुशलम की अल अक्सा मस्जिद पर 10 जून को हिंदू विरोधी रैली का आयोजन किया गया। द मिडिल ईस्ट मीडिया रिसर्च इंस्टीट्यूट (AEMRI) की रिपोर्ट के मुताबिक, अल-अक्सा मस्जिद में रैली के दौरान फिलीस्तीन के इस्लामिक स्कॉलर निधाल सियाम ने हिंदुओं के खिलाफ जिहाद शुरू करने का आव्हान किया। सुनियोजित षड्यंत्र के तहत भारत में हिंसा भड़काई गई। इस काम में पाकिस्तान और कुछ अन्य देशों के हजारों नान वेरिफाइड इंटरनेट मीडिया अकाउंट लगे थे। फर्जी खबरों पर नजर रखने और फैक्ट चेक करने वाले डिजिटल फारेंसिक्स रिसर्च एंड एनालिटिक्स सेंटर (DFRAC) की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है।

गलत सूचनाओं से भड़काया गया

रिपोर्ट में बताया गया कि किस तरह से गलत सूचनाओं से लोगों को भड़काया गया। रिपोर्ट के मुताबिक, विभिन्न देशों से 60 हजार से ज्यादा नान वेरिफाइड अकाउंट इस मामले में आग भड़काने के लिए अलग-अलग हैशटैग का प्रयोग कर रहे थे। इनमें से 7,100 से ज्यादा अकाउंट को पाकिस्तान से चल रहे थे। इन अकाउंट के माध्यम से कई आधारहीन बातें पोस्ट की गईं और लोगों को भड़काया गया।

इस तरह फैलाया गया झूठ

नान वेरिफाइड अकाउंट के जरिये इंग्लैंड के क्रिकेट खिलाड़ी मोइन अली का फर्जी स्क्रीनशाट चलाया गया, जिसमें दावा किया गया कि उन्होंने आईपीएल के बहिष्कार की अपील की है। लोगों को भड़काने के लिए फर्जी तस्वीरें भी शेयर की गईं। पाकिस्तान के पूर्व राजदूत ने यह झूठ फैलाया कि भाजपा से निष्कासित नेता नवीन जिंदल उद्योगपति जिंदल के भाई हैं। इस दौरान स्टाप इंसल्टिंग प्रोफेट मोहम्मद, बायकाट इंडियन प्रोडक्ट जैसे हैशटैग प्रयोग किए गए।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.