रांची में छह थाना क्षेत्रों से हटी निषेधाज्ञा, हिंदपीढ़ी, डेली मार्केट, लोअर बाजार, कोतवाली, चुटिया और डोरंडा थाना क्षेत्र में धारा 144 अभी भी लागू 

पिछले दिनों रांची में हुई हिंसा के बाद पूरे जिले में धारा 144 लगा दी गई थी। लेकिन समय बीतने के साथ-साथ यहां का जनजीवन धीरे धीरे सामान्य होने की ओर अग्रसर है। इसको देखते हुए जिला प्रशासन ने जिले के छह थाना क्षेत्रों से धारा 144 को हटा लिया है। वहीं संवेदनशील माने जाने वाले क्षेत्र  हिंदपीढ़ी, डेली मार्केट, लोअर बाजार, कोतवाली, चुटिया और डोरंडा में एहतियात के तौर पर अभी भी धारा 144 लागू रखी गई है।  निषेधाज्ञा वाले क्षेत्रों के निवासी दोपहर के एक बजे से लेकर पांच बजे तक अपने जरूरत के सामानों की खरीदारी कर सकते हैं। लेकिन इस दौरान एक जगह चार से अधिक लोग इकट्ठा नहीं हो सकते।

डीसी ने 10 जून की घटना को चिंताजनक बताया

रांची डीसी छविरंजन और एसएसपी सुरेंद्र झा ने रविवार को संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में 10 जून को मेन रोड पर हुई हिंसक घटना को चिंताजनक बताया। डीसी ने कहा कि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस जो कदम उठाया, वह सही है। उन्होंने कहा कि रांची का माहौल धीरे-धीरे सामान्य हो रहा है। इसे ध्यान में रखते हुए ही पाबंदियों में छूट दी गई है। उन्होंने कहा कि इस हिंसक घटना में अब तक दो लोगों की मौत हुई है। दोनों का शांतिपूर्ण ढंग से अंतिम संस्कार हो चुका है। डीसी ने शहर के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। 

दोषी किसी भी सूरत में बख्शे नहीं जाएंगे : एसएसपी

इस मौके पर रांची के एसएसपी सुरेंद्र झा ने कहा कि हिंसक घटना के दोषी किसी भी सूरत में बख्शे नहीं जाएंगे। इसके लिए एसआईटी गठित की गई है। तकनीकी टीम भी उपद्रवियों की खोज में जुटी है। दोषियों के खिलाफ हर हाल में कठोर कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि आम लोगों की परिस्थितियों को देखते हुए इंटरनेट सेवा चालू कर दी गयी है, लेकिन प्रशासन की सोशल मीडिया पर पैनी नजर है। हिंसा और विवाद को बढ़ाने वाले पोस्ट करने वालों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जाएगी। अब तक इस मामले में कुल 25 एफआईआर हुए हैं। इसमें 22 लोग नामजद हैं और 100 अज्ञात लोगों पर एफआईआर किया है। फिलहाल शहर में 3500 से अधिक एटीएस, आईआरबी, एसटीएफ और रेपिड एक्शन फोर्स जवानों की तैनाती है।

चिन्हित किए जा रहे हैं उपद्रवी, निर्दोष नहीं फंसेंगे

एसएसपी ने भरोसा दिलाया कि किसी भी परिस्थिति में निर्दोष को बचाया जाएगा। उन्हें किसी भी तरह की परेशानी नहीं आने दी जाएगी। पुलिस की टीम वायरल सभी वीडियो को जांच कर रही है। उपद्रवियों को चिह्नित किया जा रहा है। एसएसपी ने शहरवासियों से अपील की है कोई भी अफवाह न फैलाएं और जिला प्रशासन को साथ दें। उन्होंने कहा कि जिन थाना क्षेत्रों में निषेधाज्ञा लागू है, वहां चार से अधिक लोग बाहर नहीं निकलें। हिंदपीढ़ी, डेली मार्केट, लोअर बाजार, कोतवाली, चुटिया व डोरंडा थाना क्षेत्र में अभी भी धारा 144 लागू है। शहर के अन्य थाना क्षेत्रों से निषेधाज्ञा हटाया गया है। उन्होंने बताया कि जिन थाना क्षेत्रों से निषेधाज्ञा हटाई गई है, वहां पुलिस और प्रशासन की पैनी नजर रहेगी। प्रेस वार्ता में सिटी एसपी अंशुमन कुमार एसडीओ दीपक दुबे आदि अधिकारी मौजूद थे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.