देखते ही देखते वकील ने एसडीएम कोर्ट में ही खुद को लगा ली आग, इसके बाद…

Rajasthan (राजस्थान) में सीकर जिले के खंडेला में 9 जून को दिल को हिला देने वाली दर्दनाक घटना सामने आई। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, दोपहर करीब ढाई बजे SDM राकेश कुमार अपने कार्यालय के अंदर चैंबर में बैठे थे। इसी दौरान बाहर एक वकील हंसराज मावलिया (40) ने खुद को आग लगा ली और अंदर आ गया। उसने ऑफिस का दरवाजा पहले ही बंद कर दिया था। बताया जा रहा है कि हर सुनवाई के लिए रिश्वत मांगने का आरोप लगाते हुए उसने ने SDM कोर्ट में आग लगा ली। इस दौरान उसने SDM को गले लगाने का प्रयास किया। SDM उसे धक्का देकर भागे। इतने में उनके हाथ का कुछ हिस्सा जल गया।

कोर्ट में मची अफरा-तफरी

वकील को आग से घिरा हुआ देख कोर्ट में अफरा-तफरी मच गई। लोगों ने वकील को रोकने की कोशिश की, किंतु हंसराज एसडीएम के पास जा पहुंचा। आग इतनी भयंकर थी कि कोर्ट में चारों तरफ धुआं-धुआं हो गया। कोर्ट में मौजूद एक अन्य वकील का दम घुटने लगा, तब उसने बाहर जाने की कोशिश की। सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड और मेडिकल टीम मौके पर पहुंची। आग पर काबू पाया गया और घायलों को खंडेला हॉस्पिटल ले जाया गया था।

अस्पताल में इलाज के दौरान हुई मौत

गंभीर रूप से झुलसे वकील को तुरंत खंडेला के हॉस्पिटल ले जाया गया। वहां से जयपुर रेफर कर दिया गया था। एसडीएम राकेश कुमार का इलाज खंडेला हॉस्पिटल में चल रहा है। वकील के छोटे भाई लक्ष्मणराम ने बताया कि इलाज के दौरान SMS हॉस्पिटल में हंसराज की मौत हो गई। वकील के बैग में एक लेटर मिला है, जिसमें SDM राकेश कुमार पर हर केस के लिए पैसे मांगने का आरोप लगाया है।

बैग में मिला पेट्रोल और कीटनाशक

स्थानीय लोगों की मानें तो वकील हंसराज मावलिया कुछ दिनों से डिप्रेशन में था। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मौके पर मावलिया के बैग से पॉलीथिन में पेट्रोल और कीटनाशक दवा की बोतल बरामद हुई है। एक लेटर भी मिला है, जिसमें एसडीएम पर गंभीर आरोप लगाए हैं। वकील ने लिखा है कि हर केस के लिए एसडीएम राकेश कुमार रिश्वत मांगते थे। सीकर SP कुंवर राष्ट्रद्वीप और DSP गिरधारी लाल शर्मा भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने वहां के अधिकारियों से जरूरी जानकारी ली।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.