|

हिंदुस्तान की हकीकत : कॉलेज के इन दो मुस्लिम स्टूडेंट्स ने जीता रामायण पर ऑनलाइन क्विज, हार्दिक बधाई का…

Apna Bharat, Shreshta Bharat (अपना भारत, श्रेष्ठ भारत) : भारत लोकतंत्र की ही जननी नहीं है, बल्कि अपने आप में तमाम विविधताओं को समेटे हुए चरित्र की जीवंत मिसाल भी है। रामायण पर फादर कामिल बुल्के श्रेष्ठ शोध करते हैं, तो आज के वक्त में रामायण पर हुए ऑनलाइन क्विज में भाग लेकर केरल के 2 मुस्लिम स्टूडेंट्स अपने ज्ञान की श्रेष्ठता प्रमाणित करते हैं। ये दोनों कॉलेज स्टूडेंट हैं। यही है हमारे हिंदुस्तान की असली हकीकत। नफरतों से दूर, प्यार की बगिया।

समाज के सभी लोगों ने दी हार्दिक बधाई

 जानकारी के मुताबिक, उत्तरी केरल जिले के वलांचेरी में केकेएसएम इस्लामिक एंड आर्ट्स कॉलेज में आठ वर्षीय पाठ्यक्रम (वेफी कार्यक्रम) के क्रमशः पांचवें और अंतिम वर्ष के छात्र बासित और जाबिर पिछले महीने आयोजित रामायण पर आधारित प्रश्नोत्तरी के पांच विजेताओं में से थे। रामायण प्रश्नोत्तरी में इस्लामिक कॉलेज के छात्रों की जीत ने व्यापक मीडिया का ध्यान आकर्षित किया, जिसके बाद विभिन्न क्षेत्रों के लोगों ने दोनों को बधाई देना शुरू कर दिया।

 82 हजार से अधिक लाइक्स 

इस विषय से संबंधित पोस्ट को सोशल मीडिया पर करीब 82 हज़ार से ज्यादा लाइक्स देखने को मिले। इस पोस्ट पर कई लोगों के कमेंट्स भी देखने को मिले। एक यूज़र ने कमेंट करते हुए लिखा है- वाकई इन दोनों बच्चों ने साबित कर दिया कि ज्ञान कहीं से भी लिया जा सकता है। सच्चाई तो यह है कि हमारे ऋग्वेद में लिखा हुआ है ‘आनो भद्रा क्रतयो यंतु विश्वत: यानी ज्ञान की किरणों को सभी दिशाओं से अपने भीतर आने दो। अंग्रेजी में Let noble thoughts  come from everywhere. रामायण क्वीज से जुड़े पोस्ट पर एक यूजर ने कमेंट लिखा है- ‘ये हमारा असली हिन्दुस्तान है।’

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.