दिल्ली में शर्मनाक घटना : केंद्रीय विद्यालय के शौचालय में 11 वर्षीय छात्रा से छात्रों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, महिला आयोग ने प्रिंसिपल और पुलिस को भेजा नोटिस

National news New Delhi : दिल्ली के एक केंद्रीय विद्यालय में 11 वर्षीय छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले को लेकर महिला आयोग दिल्ली की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने दिल्ली पुलिस और संबंधित स्कूल की प्रिंसिपल को नोटिस भेजा है। आयोग  द्वारा दी गई जानकारी में बताया गया कि एक 11 वर्ष की छात्रा ने आरोप लगाया है कि जुलाई 2022 में वह केंद्रीय विद्यालय में अपनी कक्षा में जा रही थी। इस दौरान वह स्कूल की 11वीं और 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले दो विद्यार्थियों से टकरा गई। इसके बाद दोनों छात्र आक्रोशित हो गए तो छात्रा ने उन दोनों से माफी मांग लिया। लेकिन इसका उन छात्रों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा। वे छात्रा को खींच कर शौचालय में ले गए। शौचालय को अंदर से बंद कर दिया। इसके बाद दोनों ने बारी- बारी से छात्रा के साथ दुष्कर्म किया। 

शिक्षक ने मामले को दबाने की कोशिश की

जब पीड़ित छात्रा मामले की शिकायत लेकर स्कूल के एक शिक्षक के पास गई तो उन्होंने कहा कि दोनों छात्रों को स्कूल से निकाल दिया गया है। उन्होंने मामले को कथित रूप से दबाने की कोशिश की। इधर, दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए स्कूल की प्रिंसिपल और दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर कार्रवाई की रिपोर्ट तलब की है। दिल्ली पुलिस और स्कूल की प्रिंसिपल को नोटिस जारी कर मामले में की गई कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी है। आयोग ने दिल्ली पुलिस से मामले में दर्ज की गई प्राथमिकी की प्रति मांगी है। 

दिल्ली पुलिस और स्कूल से आयोग ने मांगी जानकारी

महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस और स्कूल से कथित रूप से दिल्ली पुलिस को मामले की रिपोर्ट न करने के लिए स्कूल के शिक्षक अथवा किसी अन्य कर्मचारी के विरुद्ध की गई कार्रवाई की जानकारी देने को भी कहा है।

आयोग ने स्कूल की प्रधानाध्यापक से यह पूछा है कि स्कूल को इस मामले के बारे में कब पता चला और उनके द्वारा क्या कार्रवाई की गई। आयोग ने स्कूल से मामले में की गई जांच रिपोर्ट की एक प्रति भी प्रस्तुत करने को कहा है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.