… और इस तरह कैदी नंबर 1187 बन गईं निलंबित IAS पूजा सिंघल, बिरसा मुंडा जेल बनी आशियाना

Jharkhand (झारखंड) कैडर की निलंबित IAS  पूजा सिंघल का ठिकाना अब रांची की बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल है। कम से कम अगले 14 दिन उन्हें होटवार स्थित बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में एक सामान्य कैदी के रूप में काटने होंगे। वहां उनकी पहचान पूजा सिंघल के बजाय कैदी नंबर 1187 के रूप में होगी। मनी लांड्रिंग मामले में उन्हें ईडी ने 11 मई की शाम को गिरफ्तार किया था। उन्हें इस जेल में एक रात गुजारनी पड़ी थी। 12 मई से वह ईडी की रिमांड पर थीं। 14 दिनों की रिमांड खत्म होने के बाद उन्हें 25 मई को कोर्ट के आदेश पर 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में इसी जेल में रखा गया है। 

सामान्य कैदी की हैसियत से हैं जेल में

याद कीजिए,  यह वही जेल है, जहां राजद सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा सहित कई बड़ी हस्तियों को भी महीनों रहना पड़ा था। राजनीतिक बंदी होने की वजह से इन दोनों को जेल में अपर सेल की विशेष सुविधाएं हासिल थीं, लेकिन पूजा सिंघल को जेल के लेडी वार्ड में सामान्य बंदी की हैसियत से रखा गया है। पूजा सिंघल के वकील ने ईडी के विशेष कोर्ट के सामने उनके खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए रियायत की अपील की थी, लेकिन जेल भेजे जाने के पहले हुए मेडिकल टेस्ट में उन्हें फिट बताया गया। इसपर कोर्ट ने उन्हें जेल में जरूरत के अनुसार उचित मेडिकल सेवा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.