नूपुर शर्मा के बयान को लेकर तौकीर रजा ने किया बड़ा एलान, 17 जून को करेंगे बरेली में प्रदर्शन, इधर, योगी सरकार दो हेलीकॉप्टर से करेगी प्रदर्शन की निगरानी

पैगंबर मोहम्मद पर नूपुर शर्मा द्वारा दिए गए बयान के बाद देशभर में हिंसा और उत्पाद की खबरें आ रही हैं। इस बीच इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) प्रमुख तौकीर रजा खान ने रविवार को कहा है कि नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी नहीं हुई तो 17 जून (अगला जुम्मा) को बरेली में सामूहिक विरोध-प्रदर्शन किया जाएगा। इधर, योगी सरकार ने भी तौकीर रजा के एलान के बाद प्रदर्शन की निगरानी के लिए पुलिस प्रशासन को अलर्ट कर दिया है। प्रदर्शन की निगरानी में दो हेलीकॉप्टर भी लगाए जाने की सूचना मिल रही है।

महिला -पुरुष, बच्चे और बूढ़े सबको प्रदर्शन में शामिल होने का किया आह्वान

मौलाना तौकीर रजा खान के बयान के अनुसार 17 जून को जुम्मे की नमाज के बाद यह प्रदर्शन किया जाएगा। इसमें महिला, बच्चे, बूढ़े और जवान सबको शामिल होने का आह्वान किया गया है। मौलाना तौकीर रजा खान ने  लोगों से विरोध में शामिल होने की अपील की है। आपको बता दें कि 10 जून को भी मौलाना तौकीर रजा खान ने प्रदर्शन का एलान किया था, पर बाद में उन्होंने गंगा स्नान व बरेली में हिंदू पूजा के लिए लगने वाले चौबारी मेले के चलते इस प्रदर्शन को स्थगित कर दिया था। अब दोबारा से उन्होंने आने वाले शुक्रवार को प्रदर्शन का एलान किया है। उन्होंने कुछ मस्जिदों से भी इस प्रदर्शन में शामिल होने का आग्रह किया है।

आरएसएस, बीजेपी कुछ अनहोनी करवा सकते हैं

नूपुर शर्मा को जान से मारने की लगातार मिल रही धमकी पर मौलाना तौकीर रजा ने कहा कि नूपुर शर्मा को सुरक्षा मिलनी चाहिए। उन्हें देश में वीवीआईपी को मिलने वाली सुरक्षा मिलनी चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि उन्हें अंदेशा है कि आरएसएस और बीजेपी 2024 के चुनाव को देखते हुए कुछ अनहोनी करा सकते हैं। उनके लिए सुरक्षित जगह जेल ही है।

बरेली में चप्पे-चप्पे पर रखी जाएगी नजर

मौलाना तौकीर रजा के एलान के बाद पुलिस और प्रशासन भी पूरी तरह मुस्तैद है। प्रदर्शन को देखते हुए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। उस दिन कई कंपनी पैरामिलिट्री फोर्स, पीएसी और आसपास के जिलों का पुलिसबल मोर्चा संभालेगा। मौके पर दंगा नियंत्रण वाहन भी मौजूद रहेंगे। इसके साथ ही स्मार्ट सिटी के तहत लगे सभी कैमरों से भी शहर के चप्पे-चप्पे पर नजर रखी जाएगी। प्रदर्शन की निगरानी के लिए पहली बार दो हेलिकाप्टर भी मंगवाए हैं, जो आकाश से नजर रखने के साथ जमीन की भी रखवाली करेंगे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.