शादी का झांसा देकर दूल्हों को लूटने वाली दुल्हन नहीं चढ़ रही पुलिस के हत्थे, एक महीने में कर चुकी है तीन शादी

राजस्थान के हनुमानगढ़ में एक युवती के खिलाफ एक महीने में तीन शादी और दूल्हों को लूटने का मामला सामने आया है। दुल्हन और उसके साथी इतने शातिर था कि शादी से पहले ही दूल्हे से रुपए ऐंठ लेते हैं। शादी के बाद दुल्हन पांच दिन भी नहीं रुकती और फरार हो जाती है। इसके बाद गैंग दूसरे शहर में कुंवारे लड़कों को ढूंढ उन्हें फंसाने का प्लान बनाते हैं।

लुटेरी दुल्हन और उसका गैंग ऐसे फांसता है लोगों को

गोगामेढ़ी थाना प्रभारी अजय कुमार ने बताया कि नेकीराम (35) पुत्र कृष्ण कुमार निवासी नेठराना ने थाने में रिपोर्ट दी है। उसने बताया कि उसकी शादी नहीं हो पा रही थी। तब उनके गांव के ही कृष्ण जाट ने उसे बताया कि एक गरीब मुस्लिम लड़की उसकी धर्म बहन है। उसके माता-पिता की मौत हो चुकी है और वह उसके पास के ही नेठराना में  रहती है। वह उससे शादी करवा देगा, लेकिन उसके एवज में उसे एक लाख 50 हजार रुपये देने पड़ेंगे। कोर्ट-कचहरी का जो खर्चा होगा, वह भी देना होगा। 

कमलेश के साथ 6 दिन साथ रही शबनम

उसने कमलेश को शादी के लिए हां की तो वह उसको अपने घर ले गया और एक लड़की से मिलवाया। उस लड़की ने अपना नाम शबनम पुत्री नवाब खां निवासी पारीक कॉलोनी हनुमानगढ़ टाउन बताया। इसके बाद 13 मई 2022 को कमलेश और शबनम दोनों उसे भादरा कोर्ट ले गए, जहां कमलेश ने उसकी और शबनम की शादी के संबंध में 500 रुपये के स्टांप पर लिखा-पढ़ी करवा दी थी। नेकी राम ने बताया कि शादी करने के एवज में कमलेश ने उससे 1 लाख 5 हजार रुपये नकद, 10 हजार रुपये शादी करवाने के कोर्ट खर्चे और 30 हजार रुपये शबनम को कपड़े सहित अन्य सामान दिलवाने के नाम पर ले लिए। इसके बाद वह और शबनम नेठराना आ गए। शबनम करीब 6 दिन उसके साथ घर पर रही। इसके बाद कमलेश गाड़ी लेकर आया और शबनम को साथ भेजने के लिए कहा। कमलेश ने कहा कि सुबह आकर इसको ले जाना। तब उसने विश्वास कर शबनम को कमलेश के साथ भेज दिया।

…और अचानक गायब हो गई दुल्हन शबनम

दूसरे दिन जब वह कमलेश के घर गया तो उसे शबनम नहीं मिली। कमलेश से पूछा तो उसने कहा कि एक-दो दिन में आ जाएगी, लेकिन 15-20 दिन निकलने के बाद भी शबनम नहीं आई। इस दौरान उसको पता चला कि कमलेश ने शबनम की शादी खचवाना (हनुमानगढ़) में कर दी है। उसने कमलेश से बात की और शबनम का घर उसके साथ बसाने के लिए कहा। इस पर कमलेश ने कहा कि यह तो उनका धंधा है। उसने शबनम को उसके साथ भेजकर ठगी कर ली। अब शबनम वापस उसके पास नहीं आएगी। इस पर उसने शादी के एवज में दिए 1 लाख 65 हजार रुपये वापस मांगे तो कमलेश ने इनकार कर दिया।

बहाना बनाकर दुल्हन गैंग के युवक वसूलते हैं पैसे

आरोपित युवक अविवाहित युवकों की जानकारी जुटाते और उनसे कॉन्टैक्ट कर अपनी धर्म बहन से शादी करवाने की बात करता और अलग-अलग खर्चों के नाम पर रुपयों की वसूली करता। आरोपित युवती भी अविवाहित युवकों के पैसों से हजारों रुपये के कपड़ों की खरीद करती। इसके बाद युवती कोर्ट में स्टांप पर लिखा पढ़ी कर शादी कर लेती। शादी के 5-6 दिन में बहाना बनाकर युवक उसे अपने साथ ले जाता और फिर दूसरी जगह शादी कर देता और ठगी करता।

अलग-अलग युवकों से शादी कर लाखों की ठगी

युवती ने नेठराना में युवक नेकीराम के साथ शादी करने के बाद 23 मई को खचवाना के धर्मपाल (27) पुत्र महावीर जाट के साथ शादी की। ठगों ने यहां भी स्टांप पर लिखा पढ़ी की और शादी के नाम पर 2 लाख 24 लाख रुपये की ठगी की। इसके 10 दिन बाद युवती ने कैथल के एक युवक से शादी कर ली। धर्मपाल ने भी पुलिस को शिकायत देकर ठगी का मामला दर्ज कराया है। पीड़ित ने आरोप लगाया कि शबनम और कमलेश ने मिलकर शादी के नाम पर उससे लाखों रुपये की ठगी की है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।पुलिस ने बताया कि यहां दुल्हन और उसका साथी करीब 3 से ज्यादा लोगों से शादी के नाम ठगी कर लाखों रुपये वसूल चुके थे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.