हैवानियत की पराकाष्ठा : पति और रिश्तेदार के सामने सामने छह दरिंदों ने गर्भवती महिला से किसी सामूहिक दुष्कर्म, सभी गिरफ्तार

प्रतीकात्मक चित्र।

Palamu Jharkhand news:  झारखंड के पलामू जिले से चौकाने वाली खबर प्रकाश में आई है। यहां पति के सामने ही छह दरिंदों ने ने 22 साल की गर्भवती महिला से कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म किया है। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी। पुलिस सभी छह आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। घटना को लेकर पलामू एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि घटना जिले के सतबरवा थाना क्षेत्र के बकोरिया भलुआही घाटी के समीप हुई। उन्होंने कहा कि महिला का ससुराल पाटन पुलिस थाने के अंतर्गत आती है, जहां ससुरालियों से लड़ाई झगड़ा करने के बाद वह शनिवार को पैदल ही 35 किलोमीटर दूर स्थित अपने पिता के घर को चल पड़ी। उन्होंने बताया कि इसके बाद महिला का पति एक अन्य रिश्तेदार के साथ बाइक से महिला को ढूंढ़ने निकला। पति ने रात लगभग 8 बजे पत्नी को जब सतबरवा थाना क्षेत्र के राष्ट्रीय राजमार्ग-39 पर ढूंढ़ लिया।

पति ने दर्ज कराई थाने में शिकायत

महिला के पति की ओर से पुलिस को दिये गये बयान के अनुसार जब वह पत्नी को घर चलने के लिए मना रहा था, तभी छह लोग बाइक से आये और उसकी तथा उसके रिश्तेदार की गंभीर रूप से पिटाई कर दी। पति ने बताया कि वे उसकी पत्नी को पास के ही एक स्थान पर ले गये और उन्होंने उससे बारी-बारी से दुष्कर्म किया। पति ने बताया कि आरोपियों में से वह दो को जानता है। थाने को दी गई लिखित शिकायत में कहा गया है कि आरोपी पीड़िता को बाइक से दूसरे स्थान पर ले जाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन बाइक एक कार से टकरा गई। इसके बाद महिला ने मदद के लिए शोर मचाना शुरू कर दिया। महिला की आवाज सुनकर स्थानीय ग्रामीण वहां पहुंचे और दो आरोपियों को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। महिला को बचा लिया गया, लेकिन बाकी आरोपी फरार हो गये। 

2 दिन के भीतर गिरफ्तार किए गए सभी आरोपी

पुलिस अधीक्षक सिन्हा ने कहा कि दोनों आरोपियों को रविवार को गिरफ्तार किया गया, जबकि चार अन्य को पुलिस ने सोमवार को दबोच लिया है। सतबरवा थाने के प्रभारी ऋषिकेश कुमार राय ने इस घटनाक्रम के बारे में बताया कि पीड़िता को नाजुक हालत में मेदिनीनगर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। उसका इलाज चल रहा है लेकिन उसकी हालत स्थिर है। उसके गर्भ की स्थिति के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है। राय ने कहा कि छह आरोपियों में से चार पलामू जिले के सतबरवा निवासी हैं, जबकि एक-एक आरोपी लातेहार के बालूमथ क्षेत्र और लोहरदगा के कुडू क्षेत्र के निवासी हैं। पलामू और लातेहार निवासी आरोपी दिहाड़ी मजदूर हैं, जबकि लोहरदगा निवासी आरोपी मधुमक्खी पालन का काम करता है। फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर नमूने एकत्र किये हैं। पुलिस मामले की कार्रवाई में जुटी हुई है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *