मंत्री के बेटे पर जिस युवती ने लगाया था दुष्कर्म का आरोप, उसी युवती पर बदमाशों ने फेंका केमिकल

राजस्थान में अशोक गहलोत कैबिनेट के मंत्री महेश जोशी के बेटे रोहित जोशी पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली युवती पर शनिवार की रात हमला किया गया। पीड़ित युवती का कहना है कि ऑटो सवार युवकों ने उस पर केमिकल फेंका और फरार हो गए। घटना की जानकारी मिलने पर उसे अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे छुट्टी दे दी गई। इस वारदात को लेकर शाहीन बाग थाना पुलिस ने इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच चल रही है। महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने मामले में संज्ञान लेकर दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर कहा कि एफआईआर दर्ज कर जल्द आरोपितों को गिरफ्तार किया जाये।

एम्स में इलाज कराने के बाद दे दी गई छुट्टी

पीड़ित युवती ने शनिवार की रात अपने पर हमला किये जाने की शिकायत दी। युवती ने पुलिस को बताया कि वह पैदल शाहीन बाग से जा रही थी। तभी रास्ते में ऑटो सवार युवकों ने उस पर केमिकल फेंका और फरार हो गए। उसने तुरंत मामले की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने युवती को तुरंत उपचार के लिए एम्स अस्पताल पहुंचाया। प्राथमिक उपचार के बाद युवती को छुट्टी दे दी गई है। घटना को लेकर पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी की फुटेज खंगाल रही है। दक्षिण पूर्वी जिले की डीसीपी ईशा पांडेय ने कहा कि मामले में प्राथमिक जांच में स्याही फेंकने की बात सामने आई है।

घटना के वक्त युवती की मां भी थी साथ में

 घटना के समय युवती के साथ उसकी मां भी थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर आरोपितों की पहचान करने में जुटी हुई है। पुलिस की मानें तो रोहित जोशी के साथ लिव इन रिलेशन में रहने वाली उसकी महिला मित्र ने उत्तरी जिले के सदर बाजार थाने में दुष्कर्म की शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत में युवती ने बताया था कि रोहित बीते कई माह से उसके साथ दुष्कर्म कर रहा है।

कई शहरों में ले जाकर दुष्कर्म कर चुका है मंत्री का बेटा

वह उसका अश्लील वीडियो तैयार कर उसे सार्वजनिक करने की धमकी देता है। इस धमकी से डराकर वह उसके साथ जयपुर, उत्तराखंड और दिल्ली में दुष्कर्म कर चुका है। पीड़िता के अनुसार बीते मार्च महीने में उसके साथ सदर बाजार स्थित एक होटल में रोहित जोशी ने दुष्कर्म किया था। दिल्ली पुलिस ने पहले जीरो एफआईआर दर्ज कर इस मामले को जयपुर भेज दिया था, लेकिन बाद में इसे रेगुलर एफआईआर में तब्दील कर दिया गया। आरोपित बनाया गया रोहित जोशी राजस्थान के मंत्री महेश जोशी का बेटा है। पुलिस ने उसकी तलाश में राजस्थान स्थित मंत्री के घर पर छापा भी मारा था। रोहित ने इस मामले में अपने अधिवक्ता के द्वारा अग्रिम जमानत याचिका तीस हजारी कोर्ट में दायर की थी। सुनवाई के बाद कुछ शर्तों के साथ कोर्ट ने उसे जमानत दी थी। जमानत मिलने के बाद शनिवार को उससे पुलिस ने कई घंटे पूछताछ भी की है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.