…और इस तरह हाई कोर्ट पर टिप्पणी कर फंस गए CM ममता के भतीजे अभिषेक 

West Bengal (पश्चिम बंगाल) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी हाई कोर्ट पर टिप्पणी कर फस गए हैं। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने मुख्य सचिव को तृणमूल कांग्रेस सांसद अभिषेक बनर्जी के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। न्यायालय को लेकर टिप्पणी करने के मामले में राज्यपाल ने यह निर्देश दिया है। अभिषेक बनर्जी ने कहा था कि हाई कोर्ट के एक फीसदी लोग केंद्र सरकार के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि चुनिंदा लोग हैं जो हर मामले में सीबीआई जांच का आदेश दे रहे हैं।

हाई कोर्ट ने दी केस दर्ज करने की इजाजत

हाई कोर्ट ने अभिषेक बनर्जी के खिलाफ केस दर्ज करने की इजाजत दी है। बनर्जी ने पूर्वी मेदिनीपुर जिले के हल्दिया में एक रैली के दौरान कोर्ट को लेकर टिप्पणी की थी। कोलकाता हाई कोर्ट से 7 मामलों में सीबीआई जांच के आदेश देने के मामले में सांसद ने यह बयान दिया था। इसकी निंदा करते हुए राज्यपाल धनखड़ ने कहा कि अभिषेक रेड लाइन क्रॉस कर रहे हैं।

इस बात पर भड़के थे अभिषेक

दरअसल कोलकाता हाई कोर्ट ने एसएससी द्वारा भर्ती प्रक्रिया के साथ अन्य कई मामलों में सीबीआई जांच के आदेश दिए थे। इसके अलावा अभिषेक बनर्जी समेत टीएमसी नेताओं पर कोयला घोटाला, आय से अधिक संपत्ति और चुनावी हिंसा की जांच चल रही है। इसीलिए अभिषेक बनर्जी कोर्ट पर भड़क गए। उन्होंने कहा कि केंद्रीय एजेंसियां उत्पीड़न कर रही हैं और बदला ले रही हैं।

केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग

बनर्जी ने कहा कि केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है। बंगाल का अपमान करने के लिए उन्हें बार-बार दिल्ली बुलाया जाता है। भाजपा विधायक शुभेंदु अधिकारी ने पलटवार करते हए कहा कि सीबीआई और ईडी से बचने के लिए उन्होंने मेदिनीपुर की विरासत, आत्मा और भावना को बेच दिया है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.