Today’s Rashifal  & Panchang  : आज सभी राशि वालों को कर्म के दम पर मिलेगा किस्मत का साथ, 5 सितंबर 2022 का राशिफल और 2 दिनों का पढ़ें पंचांग

Rashifal 0f 5 September 2022 and  2 days Panchang : वैदिक ज्योतिष शास्त्र में 12 राशियों का विस्तृत विवरण है। सभी राशियों का मालिक ग्रह होता है। राशियों पर ग्रहों के प्रभाव से जीवन की गति और भविष्य का आकलन किया जाता है। 5 सितंबर को सोमवार है। यह दिन भगवान शिव की पूजा और आराधना का दिन है। उनकी कृपा से जीवन शक्ति और संकल्प की ऊर्जा मिलती है। आज राहु मेष राशि में हैं। मंगल वृषभ राशि में हैं। सूर्य और शुक्र सिंह राशि में हैं। केतु तुला राशि में हैं। चंद्रमा धनु राशि में प्रवेश कर चुके हैं। मकर राशि में शनि जो कि वक्री हैं और मीन राशि में गुरु जो कि वक्री हैं। अब पहले 2 दिनों का पंचांग, फिर राशिफल का डिटेल। याद रखिए कर्म के दम पर ही मिलता है किस्मत का साथ।

5 सितंबर 2022 यानी सोमवार का पंचांग

भाद्रपद शुक्ल पक्ष नवमी, राक्षस संवत्सर विक्रम संवत 2079, शक संवत 1944 (शुभकृत् संवत्सर), भाद्रपद | नवमी तिथि 08:28 AM तक उपरांत दशमी तिथि 05:54 AM तक उपरांत एकादशी | नक्षत्र मूल 08:05 PM तक उपरांत पूर्वाषाढ़ा | प्रीति योग 11:28 AM तक, उसके बाद आयुष्मान योग | करण कौलव 08:28 AM तक, बाद तैतिल 07:13 PM तक, बाद गर 05:54 AM तक, बाद वणिज | सितम्बर 05 सोमवार को राहु 07:46 AM से 09:19 AM तक है | चन्द्रमा धनु राशि पर संचार करेगा।

6 सितंबर 2022 यानी मंगलवार का पंचांग

भाद्रपद शुक्ल पक्ष एकादशी, राक्षस संवत्सर विक्रम संवत 2079, शक संवत 1944 (शुभकृत् संवत्सर), भाद्रपद | एकादशी तिथि 03:05 AM तक उपरांत द्वादशी | नक्षत्र पूर्वाषाढ़ा 06:09 PM तक उपरांत उत्तराषाढ़ा | आयुष्मान योग 08:15 AM तक, उसके बाद सौभाग्य योग 04:49 AM तक, उसके बाद शोभन योग | करण वणिज 04:31 PM तक, बाद विष्टि 03:05 AM तक, बाद बव |

सितम्बर 06 मंगलवार को राहु 03:30 PM से 05:03 PM तक है | 11:38 PM तक चन्द्रमा धनु उपरांत मकर राशि पर संचार करेगा।

5 सितंबर 2022 का राशिफल

मेष- जोखिम से उबर चुके हैं। स्‍वास्‍थ्‍य पहले से बेहतर है। प्रेम और संतान की स्थ्‍िाति पहले से अच्‍छी चल रही है। घरेलू सुख बढ़ चढ़कर है। घर में सम्मिलित होकर आप काम को कर रहे हैं। यात्रा में लाभ होगा। धार्मिक बने रहेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम, व्‍यापार बहुत अच्‍छा दिख रहा है। पीली वस्‍तु पास रखें।

वृष -किसी परेशानी में पड़ सकते हैं। परिस्थितियां प्रतिकूल हैं। चोट लग सकती है। ध्‍यान दें। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम-संतान अच्‍छा, व्‍यापार भी सही चल रहा है। पीली वस्‍तु का दान करें।

कर्क-शत्रुओं पर भारी पड़ेंगे। रुका हुआ काम चल पड़ेगा। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम रहेगा। प्रेम और संतान की स्थिति बहुत अच्‍छी है। व्‍यापार भी सही चल रहा है। पीली वस्‍तु पास रखना और बजरंग बली की अराधना करना शुभ होगा।

सिंह-भावनाओं में बहकर कोई निर्णय न लें। लिखने-पढ़ने में समय व्‍यतीत करें। शुभ होगा। प्रेम और संतान की स्थिति मध्‍यम है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से शुभ होगा। स्‍वास्‍थ्‍य आपका बहुत अच्‍छा है। पीली वस्‍तु पास रखें।

कन्‍या-भूमि, भवन, वाहन की खरीदारी सम्‍भव है। भौतिक सुख-संपदा में वृद्ध‍ि संभव है लेकिन कलह भी हो सकती है। घरेलू सुख बाधित हो सकता है। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम, संतान मध्‍यम है। व्‍यापार बहुत अच्‍छा है। शनिदेव की अराधना करते रहें।

तुला-घोर पराक्रमी बने रहेंगे। व्‍यापारिक लाभ होगा। अपनों का साथ होगा। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा। प्रेम और संतान की स्थिति भी ठीक है। व्‍यापार बहुत अच्‍छा है। पीली वस्‍तु का दान करें।

वृश्चिक-कुटुम्‍बीजनों में वृद्ध‍ि होगी। धन का आवक बढ़ेगा लेकिन निवेश न करें। स्‍वास्‍थ्‍य आपका पहले से बेहतर, प्रेम-संतान मध्‍यम, व्‍यापार बहूत अच्‍छा है। पीली वस्‍तु पास रखें।

धनु-सकारात्‍मक ऊर्जा का संचार होगा। आकर्षण के केंद्र बने रहेंगे। समाज में सराहे जाएंगे। स्‍वास्‍थ्‍य पहले से बढ़िया, प्रेम-संतान बहुत अच्‍छा है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से शुभ समय है। लाल वस्‍तु पास रखें।

मकर-खर्च की अधिकता मन को सताएगी। अज्ञात भय सताएगा। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम और संतान की स्थिति अच्‍छी है। व्‍यापार मध्‍यम रहेगा। पीली वस्‍तु का दान करें।

कुंभ-आर्थिक मामले सुलझेंगे। शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम, संतान, व्‍यापार अति उत्‍तम है। हरी वस्‍तु पास रखे।

मीन-शासन-सत्‍ता पक्ष का सहयोग मिलेगा। उच्‍चाधिकारी प्रसन्‍न होंगे। व्‍यापारिक समस्‍या हल होगी। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम, संतान, व्‍यापार अति उत्‍तम है। पीली वस्‍तु पास रखें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.