राज्यसभा के लिए झारखंड से भाजपा के आदित्य साहू और झामुमो की महुआ माजी निर्विरोध निर्वाचित

झारखंड से राज्यसभा की दो सीटों के लिए भाजपा के आदित्य साहू और झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) की महुआ माजी निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिए गये हैं। विधानसभा के प्रभारी सचिव सह रिटर्निंग अफसर सैयद जावेद हैदर ने दोनों के निर्विरोध निर्वाचन की घोषणा की और प्रमाण पत्र दिया।

2 सीट के लिए दो ही उम्मीदवारों ने भरत है पर्चा

गौरतलब है कि झारखंड में राज्यसभा की दो सीटों के लिए चुनाव होना था। दो सीटों के लिए दो प्रत्याशी ने ही नामांकन किया था। नामांकन के साथ ही दोनों प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित थी। शुक्रवार को नाम वापसी का आखिरी दिन था। किसी भी प्रत्याशी ने नाम वापस नहीं लिया। इसके बाद निर्वाची पदाधिकारी ने दोनों के निर्वाचित होने की घोषणा की।

महेश पोद्दार और नकवी का कार्यकाल हो गया था पूरा

भारतीय जनता पार्टी से राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार और मुख्तार अब्बास नकवी का कार्यकाल पूरा होने से झारखंड में राज्यसभा की दो सीटें खाली हुई थीं। दोनों सांसदों का कार्यकाल 7 जुलाई को समाप्त हो रहा है। झारखंड में राज्यसभा के छह सीटें हैं। इस बार एक सीट भाजपा के कोटे में आयी है और एक सीट झामुमो के कोटे में गयी है. इस तरह झारखंड से राज्यसभा में भाजपा की एक सीट कम हो गयी।

झारखंड में चौथी बार निर्विरोध चुने गये प्रत्याशी

झारखंड से चार बार राज्यसभा के लिए निर्विरोध प्रत्याशी चुने गये हैं। वर्ष 2014 के बाद यह पहला मौका है जब झारखंड से राज्यसभा के लिए प्रत्याशी निर्विरोध चुनकर उच्च सदन जायेंगे। यहां पहली बार वर्ष 2004 में निर्विरोध निर्वाचन हुआ था, तब भाजपा के यशवंत सिन्हा और झारखंड मुक्ति मोर्चा के स्टीफन मरांडी अपने-अपने दल के प्रत्याशी थे। दूसरी बार वर्ष 2006 में कांग्रेस के उम्मीदवार माबेल रेबेलो और भाजपा के प्रत्याशी एसएस अहलुवालिया निर्विरोध निर्वाचित होकर राज्यसभा पहुंचे थे। तीसरी बार वर्ष 2014 में निर्दलीय प्रत्याशी परिमल नाथवानी और राजद के प्रेमचंद गुप्ता उच्च सदन के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए थे।

आदित्य साहू ने पीएम का जताया आभार

राज्यसभा के लिए निर्वाचित होने के बाद भाजपा प्रत्याशी आदित्य साहू ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत केंद्रीय और प्रदेश चुनाव समिति के सभी सदस्यों और प्रदेश नेतृत्व के प्रति आभार जताया। जीत का प्रमाण पत्र मिलने के बाद आदित्य साहू भावुक भी हो गये। उन्होंने कहा कि सपने में भी नहीं सोचा था कि पार्टी मुझे इतना सम्मान देगी। उन्होंने भाजपा विधायकों के साथ आजसू के विधायकों को भी समर्थन देने के लिए आभार प्रकट किया।

 महुआ माजी बोलीं- सदन में बेटियों की आवाज बनूंगी

राज्यसभा के लिए निर्वाचित होने के बाद झामुमो प्रत्याशी महुआ माजी ने पार्टी सुप्रीमो शिबू सोरेन, पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सहित पार्टी के सभी विधायकों और राजद विधायक के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि गुरुजी और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने देश के उच्च सदन में झारखंड की बेटी को प्रतिनिधित्व करने का गौरवशाली मौका दिया है। देश के उच्च सदन में पार्टी द्वारा दी गयी बेटी के सम्मान को जाया नहीं जाने दूंगी और बेटियों की आवाज बनूंगी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.