अपनी ही शादी से गायब हो गया विधायक दूल्हा, होने वाली दुल्हन ने कर दिया केस..

MLA Dulha did not attend his own marriage. ऐसी घटना कम ही सुनने को मिलती है कि शादी के दिन बारात से दूल्हा ही गायब हो जाए या दूल्हा शादी में जाए ही नहीं, लेकिन ओडिशा में ऐसी ही घटना सामने आई है और यह मामला बीजू जनता दल के एक विधायक से जुड़ा हुआ है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, विधायक बिजय शंकर दास अपनी ही शादी में न पहुंचकर घिर गए हैं और उनकी मंगेतर ने धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया है।

विधायक जी ने कहा 60 दिनों के अंदर अपनी मंगेतर से ही करूंगा विवाह 

 अब विधायक का कहना है कि वह अगले 60 दिनों के अंदर अपनी मंगेतर से विवाह कर लेंगे। महिला ने दावा किया है कि विधायक की फैमिली भी लगातार उस पर यह दबाव बना रही थी कि वह शादी न करे। यही नहीं महिला ने कहा कि मुझे कई बार इस बारे में धमकी देने की भी कोशिश की गई। बिजय शंकर दास पर पुलिस ने धोखाधड़ी, धमकी देने और आपराधिक साजिश रचने के आरोपों में केस दर्ज किया है।

17 मई 2022 को शादी के रजिस्ट्रेशन के लिए किया गया था आवेदन

दरअसल विधायक और उनकी मंगेतर ने 17 मई 2022 को शादी के रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन किया था। महिला अपने परिवार के साथ रजिस्ट्रार ऑफिस पहुंची थी, लेकिन विधायक महोदय नहीं आए। इस पूरे मसले पर बात करते हुए विधायक ने कहा, ‘मैं उससे अगले 60 दिनों में शादी के लिए तैयार हूं। शादी के रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन को एक महीना बीत गया है। मेरे पास अब भी 60 दिन बाकी है। मेरी मां बीमार हैं। मैं समय रहते शादी करने का प्रयास करूंगा।’ धोखाधड़ी के आरोपों पर भी बिजय शंकर दास ने सफाई दी है। उन्होंने कहा, ‘मैं कभी भी शादी के लिए इनकार नहीं किया। यहां तक कि मैंने मीडिया के सामने एलान किया है। इसलिए धोखाधड़ी का तो सवाल ही नहीं खड़ा होता है।’ दास पर धोखाधड़ी का आरोप लगाने वाली महिला का कहना है कि वह विधायक के साथ तीन साल से रिलेशनशिप में थी और उन्होंने 17 मई को शादी करने का वादा किया था। विधायक के परिवार के करीबी सूत्रों का कहना है कि बिजय शंकर दास कुछ वक्त तक महिला के साथ रिलेशनशिप में थे। बता दें कि बिजय शंकर दास पूर्व मंत्री बिष्णु चरण दास के बेटे हैं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.