साउंड से 9 गुनी तेज गति से चलने वाली हाइपरसोनिक क्रूज मिसाइल का रूस ने किया परीक्षण, इंडिया की ब्रह्मोस से…

Russia-Ukraine (रूस-यूक्रेन) के 94 दिन बीत चुके हैं। इस बीच रूस ने 28 मई को 1,000 किमी तक मार करने वाली जिरकान मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। इस हाइपरसोनिक क्रूज मिसाइल की रफ्तार आवाज (Sound) से 9 गुनीतेज है। यह भारत की ब्रह्मोस से तीन गुना ज्यादा है। रूसी रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, मिसाइल को बैरेंट्स सी में तैनात वॉरशिप एडमिरल गोर्शकोव से लॉन्च किया गया।

वाइट सी में 1000 किलोमीटर दूर टारगेट को किया तबाह

इसने व्हाइट सी में करीब एक हजार किमी दूर एक टारगेट को तबाह कर दिया। ये टेस्ट ऐसे वक्त किया गया है, जब रूस ने अमेरिका से कहा है कि वह यूक्रेन को हथियार देकर गलती कर रहा है। इसका अंजाम बुरा हो सकता है। बता दें कि पिछले महीने रूस ने इंटर कॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) सरमट का भी परीक्षण किया था।

रूसी सेना ने यूक्रेन के लीमन शहर पर किया कब्जा

इंटरनेशनल मीडिया के अनुसार,रूसी सेना ने अहम माने जाने वाले पूर्वी यूक्रेन के लीमन शहर पर कब्जा कर लिया है। रूसी सेना ने 28 may को इस बात की पुष्टि की है। जंग शुरू होने से पहले इस शहर की आबादी 20,000 थी। इसका पुराना नाम कसीनी लीमन है। लीमन पूर्वी डोनेट्स्क के उत्तर में मौजूद है और यूक्रेनी नियंत्रित स्लोविअंस्क और क्रामाटोर्स्क शहर को जाने वाले रास्ते पर पड़ता है। रूसी डिफेंस मिनिस्ट्री ने बयान जारी कर बताया कि डोनेट्स्क पीपुल्स रिपब्लिक और रूसी आर्म्ड फोर्स की कार्रवाई के बाद लीमन शहर को पूरी तरह से यूक्रेनी कब्जे से आजाद कर दिया गया है।

वार के important अपडेट्स…

1.जंग की वजह से यूक्रेन के लुहांस्क में 3400 से अधिक कंपनियां बंद हो चुकी हैं। इनमें 479 मैन्युफैक्चरिंग प्लांट भी शामिल हैं।

2.मायकोलाइव में शनिवार को हुए रूसी बमबारी में 1 व्यक्ति की मौत हुई है। वहीं 6 लोग घायल हुए हैं।

3.यूक्रेनी अधिकारियों के मुताबिक, जंग के दौरान अब तक 242 यूक्रेनी बच्चे मारे गए हैं, वहीं 440 घायल हुए है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.