कलिंग घाटी में पर्यटक बस पलटी,  पश्चिम बंगाल के छह की मौत, 42 लोग घायल

उड़ीसा में हुए एक भीषण सड़क हादसे में पश्चिम बंगाल के छह लोगों की मौत हो गई। मंगलवार देर रात गंजम-कंधमाल सीमा के पास उड़ीसा के कलिंग घाटी में एक पर्यटक बस के पलट जाने से बंगाल की चार महिलाओं सहित छह लोगों की मौत हो गई।‌ इस दुर्घटना में 42 लोगों के घायल होने की भी सूचना है। पुलिस की मानें तो पश्चिम बंगाल के हावड़ा में उदयनारायणपुर से 76 यात्रियों को लेकर पर्यटक बस मंगलवार को दोपहर में खुली थी। बॉस आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम की ओर जा रही थी। रात करीब 11.30 बजे, बस के चालक ने पहाड़ी सड़क के एक मोड़ पर गाड़ी पर से अपना नियंत्रण खो बैठा और बस पलट गई। इस घटना में छह लोगों की मौत हो गई, जबकि 42 लोग घायल हो गए। घायलों में 15 लोगों की स्थिति गंभीर बताई जा रही है। 

छह मृतकों में से 5 की हो चुकी है पहचान

इस दुर्घटना में मरने वाले छह मृतकों में से पांच की पहचान कर ली गई है। जिनकी मौत हुई है उनमें सुप्रिया डेनरे, संजीत पात्रा, रीमा डेनरे, मौसमी डेनरा और बरनाली मन्ना शामिल हैं। मरने वाले रसोइए की पहचान नहीं हो पाई है। हादसे के तुरंत बाद दमकल कर्मी मौके पर पहुंचे और यात्रियों को पलटी बस से बाहर निकाला। बाद में स्थानीय युवकों और पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की। 

बस फूलबनी से विशाखापट्टनम लौट रही थी

40 पुरुषों, 30 महिलाओं और कुछ बच्चों सहित लगभग 77 यात्रियों को लेकर बस फूलबनी (उड़ीसा) से विशाखापत्तनम लौट रही थी, तभी कलिंग घाट (उड़ीसा) के पास वाहन ने ब्रेक पर नियंत्रण खो दिया। चालक घाट में कठिन मोड़ों के बीच बस को चलाने में विफल रहा और यह खाई में पलटने से पहले बिजली के खंभे से जा टकराई। डॉक्टरों ने बताया कि गंभीर रूप से घायलों की हालत स्थिर है। समुद्र तल से 2500 फीट की ऊंचाई पर स्थित कलिंग घाट अपनी टेढ़ी-मेढ़ी सड़कों के लिए उतना ही प्रसिद्ध है जितना कि मनमोहक प्राकृतिक सौंदर्य के लिए। घाट सबसे लंबी सड़कों में से एक है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.