|

Jharkhand government education : … नो टेंशन बच्चों, अब 12वीं तक मिलेंगी मुफ्त किताबें

Jharkhand latest Hindi news : बच्चों खूब पढ़ो किताब का टेंशन छोड़ो। सरकार सरकारी और मान्यता प्राप्त विद्यालयों में अध्ययनरत 12वीं तक के बच्चों को मुफ्त मे किताबें देंगी। बस अगले सत्र से सरकारिया व्यवस्था करने जा रही है। पुस्तकें कौन छापेगा सरकार ने प्रकाशकों के चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

किताबें खरीदने को छात्रों के खाते में जाती थी राशि 

किताबें खरीदने के लिए छात्रों के खाते में पहले डीबीटी के माध्यम से सीधे राशि जाती थी। लेकिन, इस प्रक्रिया को लेकर हुए विवाद के बाद पिछले दो वर्षों से विशेषकर 11वीं और 12वीं के विद्यार्थियों को पुस्तकें नहीं मिल पा रही थी। शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो का मानना था कि खाते में राशि देने से कई विद्यार्थी किताबें न खरीद कर इस राशि का उपयोग दूसरे माध्यमों में कर लेते थे। इसे ही केंद्र में रखकर स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने अपने स्तर पर पुस्तकें छपवाकर विद्यार्थियों को देने का निर्णय लिया है। कैबिनेट ने भी इस पर अपनी मुहर लगा दी है।

एनसीईआरटी को पांच प्रतिशत रॉयल्टी देगी सरकार

आपको बता दें झारखंड में पहली से आठवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए पाठ्य पुस्तकें जेसीईआरटी द्वारा तैयार कराई गई है, वहीं नौवीं से 12वीं तक के पुस्तकों के प्रकाशन के लिए एनसीईआरटी से कॉपीराइट ली गई है।  इसके लिए पांच प्रतिशत रॉयल्टी का भुगतान सरकार एनसीआरटी को करेगी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *