डरिए मत जानिए : ऐसी मशीन (चैटबॉट),जो इंसानों को देती है ऑर्डर, बनाने वाले इंजीनियर को…

Know, don’t fear : This Machine gives order to men : नए जमाने की नई तकनीक का नया कमाल। धमाल ही धमाल। सुनने में कुछ अटपटा लग सकता है, मगर है सच्चाई। गूगल की एक नयी तकनीक इंसानों को भी ऑर्डर करती दिख रही है। इंटरनेशनल मीडिया के अनुसार, नयी मशीन (चैटबॉट) और उसे बनाने वाले इंजीनियर के बीच की बातचीत लीक हुई है। इस बातचीत में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस ‘चैटबॉट’ को इंसानों की तरह अपनी भावनाएं जाहिर करते हुए देखा जा सकता है। कई बार वह गुस्सा भी होता है। उसने खुद को बनाने वाले इंजीनियर को यहां तक कहा कि उसके बारे में कोई भी फैसला उससे पूछ कर ही लिया जाए। गूगल ने अब इसे बनाने वाले इंजीनियर को छुट्टी पर भेज दिया है।

गूगल ने चैटबॉट लैल्डा को किया था डिजाइन

गूगल ने चैटबॉट ​​​​​लैम्डा को इस तरह से डिजाइन किया था, ताकि लोग अकेले में उससे दोस्त की तरह बात कर करें और अपनी भावनाएं जाहिर कर सकें। इसके लिए गूगल ने उसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक से जोड़ा था। लैम्डा का पूरा नाम लैंग्वेज मॉडल और डायलॉग एप्लिकेशन (Lamda) है। गूगल के सीनियर इंजीनियर ब्लेक लेमोइन इसे बना रहे थे। अपने ब्लॉग में लेमोइन ने बताया कि लैम्डा एक ‘प्यारा-सा बच्चा’ है।

इसलिए इंजीनियर को भेजा गया छुट्टी पर

इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के इस युग में एक तकनीक से डरना थोड़ अटपटा जरूर लगता है, लेकिन बिलकुल ऐसा ही हुआ है। चैटबॉट लैम्डा के दिमाग से गूगल डर गई है। शुरुआत में इसे ज्यादा से ज्यादा इंसान जैसा बनाने की कोशिश की जा रही थी। इसमें इंसानी सोच डालने के लिए गूगल के इंजीनियर्स कड़ी मेहनत कर रहे थे। लेकिन, जब लैम्डा सचमुच ही इंसानों की तरह सोचने लगा तो गूगल ने इसे बनाने वाले इंजीनियर को छुट्टी पर भेज दिया।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.